Saturday , July 13 2024

काबुल से श्री गुरुग्रंथ साहिब की तीन प्रतियां भारत पहुंचीं, हरदीप सिंह पुरी ने गुरुग्रंथ साहिब को किया रिसीव

नई दिल्ली। अफगानिस्तान से हिंदुओं और सिखों को निकालकर भारतीय वायुसेना और एयर इंडिया के विमान लगातार भारत ला रहे हैं। लेकिन मंगलवार को सिखों के पवित्र ग्रंथ गुरु ग्रंथ साहिब की तीन प्रतियों को भी अफगानिस्तान से दिल्ली लाया गया।

केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी खुद एयरपोर्ट पहुंचे

यही नहीं इन्हें रिसीव करने के लिए केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी खुद एयरपोर्ट पहुंचे। उन्होंने गुरु ग्रंथ साहिब की प्रतियों को सिर पर रखकर रिसीव किया।

यूपी में काबू में कोरोना, 58 जिलों में ‘शून्य केस’

सिख समुदाय के लोगों और पवित्र धर्म ग्रंथ की प्रतियों को भारत लाए जाने को लोग अफगानिस्तान में सिखी परंपरा का खत्म होना बता रहे हैं।

सोमवार को तीन सिख युवकों की सिर पर गुरु ग्रंथ साहिब लिए नंगे पैर चलने की तस्वीरें सामने आई थीं। हालांकि गुरु ग्रंथ साहिब की प्रतियां भारत लाए जाने का यह पहला मौका नहीं है।

25 मार्च, 2020 को गुरुद्वारा पर हुआ था हमला

इससे पहले 25 मार्च, 2020 को गुरुद्वारा हर राय साहिब में इस्लामिक स्टेट ने हमला कर दिया था। काबुल के इस गुरुद्वारे में हुए हमले में 25 लोगों की मौत हो गई थी।

UP:आगरा में बिल्डिंग गिरने से बड़ा हादसा, 2 लोगों की मौत, 15 लोग घायल

इस घटना के बाद भी पवित्र ग्रंथ की 7 प्रतियों को भारत लाया गया था। गुरु ग्रंथ साहिब की कुल 13 प्रतियां अफगानिस्तान में थीं, जिनमें से 7 को पहले ही भारत लाया जा चुका है।

श्री गुरुग्रंथ साहिब की तीन प्रतियां भारत पहुंचीं

काबुल के कारते परवान गुरुद्वारा समिति के सदस्य छबोल सिंह ने कहा कि आज तीन गुरु ग्रंथ साहिब भारत आए गए हैं। इसके बाद अब तीन प्रतियां ही अफगानिस्तान में रह गई हैं।

कल्याण के लिए बेटे से भी बढ़कर नज़र आये योगी

शिरोमणि अकाली दल के दिल्ली यूनिट के अध्यक्ष परमजीत सिंह सरना ने कहा, ‘यह अफगानिस्तान में सिखी के एक युग की समाप्ति है।

खत्म हुआ अफगानिस्तान में सिखी का एक दौर

तालिबान की ओर से अफगानिस्तान पर कब्जा किए जाने के चलते सिखों को अपने घरों को छोड़कर निकलना पड़ा है।गुरुग्रंथ साहिब की तीन प्रतियां काबुल, गजनी और जलालाबाद के गुरुद्वारों से बेहद भारी मन के साथ भारत लाई गई हैं।

गुरुग्राम में नरसंहार : पांच लोगों की निर्मम हत्या, मरने वालों में 2 बच्चे

Check Also

एससीओ शिखर सम्मेलन में विदेश मंत्री जयशंकर करेंगे भारत का प्रतिनिधित्व

कजाकिस्तान के अस्ताना में होने वाले शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के वार्षिक शिखर सम्मेलन में …