Thursday , May 23 2024

चीन और सिंगापुर में बढ़ रहे मामले कोरोना के मामले : भारत में 16 मार्च से 12 से 14 साल के बच्चों को लगेगी वैक्सीन

नई दिल्ली। देश में 16 मार्च यानी कल से 12 से 14 साल के बीच के बच्चों को कोरोना वायरस की वैक्सीन लगाई जाएगी. इसके लिए तैयारियां शुरू हो गई हैं. केंद्र ने इस उम्र वाले बच्चों को कोरोना वैक्सीन देने का फैसला ऐसे समय किया है, जब चीन, सिंगापुर जैसे देशों में संक्रमण के मामलों में तेज़ी देखी जा रही है.

कुख्यात माफिया बदन सिंह बद्दो की अवैध संपत्ति पर फिर चला योगी सरकार का बुलडोज़र

वैक्सीनेशन की शुरुआत से पहले कोविड वर्किंग ग्रुप और नेशनल टेक्निकल एडवाइजरी ग्रुप ऑन इमुनाइज़ेशन (NTAGI) के अध्यक्ष ने कहा है कि हमने 12 से 14 वर्ष के बच्चों को वैक्सीनेशन लगाने की शुरुआत इसलिए की है क्योंकि ये हाई रिस्क पर हैं.

चीन और सिंगापुर में बढ़ रहे मामले

उन्होंने कहा कि, चीन और सिंगापुर में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं. हालांकि व्यस्क नागरिकों का वैक्सिनेशन हो चुका है, लेकिन किसी तरह की लापरवाही खतरनाक हो सकती है.

Ukraine Russia War: युद्ध रूस जंग के 20वें दिन कीव पर रूस ने किए हमले तेज, मिसाइल अटैक में एक की मौत

सरकार के फैसले की जानकारी देते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुथ मांडविया ने ट्वीट किया कि, बच्चे सुरक्षित हैं तो देश सुरक्षित है! मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि 12 से 13 और 13 से 14 आयु वर्ग के बच्चों का COVID टीकाकरण 16 मार्च से शुरू हो रहा है. साथ ही, 60 वर्ष और उससे अधिक आयु के सभी लोग अब एहतियाती खुराक प्राप्त कर सकेंगे.

7.11 करोड़ बच्चों का टीकाकरण किया जाएगा

मंत्रालय ने अपने एक बयान में कहा है कि सरकार ने वैज्ञानिक निकायों के साथ विचार-विमर्श के बाद 16 मार्च को 12 से 13 साल और 13 से 14 साल आयु समूहों यानी साल 2008, 2009 और 2010 में जन्में बच्चे जो पहले से ही 12 साल से अधिक आयु के हैं के लिए कोविड 19 टीकाकरण शुरू करने का फैसला लिया है. नए आयु वर्ग के तहत लगभग 7.11 करोड़ बच्चों का टीकाकरण किया जाएगा.

पीएम मोदी बोले- परिवारवाद की राजनीति BJP में नहीं चलेगी

Check Also

उत्तर से लेकर दक्षिण भारत तक लू का कहर

देश की राजधानी दिल्‍ली और एनसीआर समेत पंजाब और राजस्‍थान के कुछ हिस्‍सों में भीषण …