Thursday , May 23 2024

उत्तराखंड में सीएम चेहरे पर सस्पेंस, 4 राज्यों में ऐसे बनेगी BJP सरकार

नई दिल्ली। पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों में से 4 राज्यों में बीजेपी ने विजय पताका लहराई है. यूपी और उत्तराखंड में बीजेपी को प्रचंड बहुमत मिला है, वहीं मणिपुर में भी पार्टी ने बहुमत हासिल किया है. इसके अलावा गोवा में भी बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी है और बहुमत से महज एक सीट दूर है, हालांकि तीन निर्दलीय विधायकों और दो एमजीपी विधायकों के समर्थन से बीजेपी की स्थिति बेहतर हो गई है.

कुख्यात माफिया बदन सिंह बद्दो की अवैध संपत्ति पर फिर चला योगी सरकार का बुलडोज़र

ऐसे में चारों ही राज्यों में बीजेपी ने सरकार बनाने की तैयारियां तेज कर दी हैं. रिजल्ट घोषित होने के करीब पांच दिन बाद भी बीजेपी ने गोवा में सरकार बनाने का फिलहाल दावा पेश नहीं किया है. राज्य के कार्यवाहक सीएम प्रमोद सावंत पार्टी अध्यक्ष जे पी नड्डा से मुलाकात के लिए आज शाम दिल्ली रवाना होंगे.

गोवा में सरकार पर कवायद तेज

बीजेपी के सूत्रों के मुताबिक विधायक दल के नेता के चयन के लिए BJP की गोवा इकाई के विधायक दल की बैठक बुधवार को होने की संभावना जताई जा रही है. सावंत ने कहा कि नड्डा से मुलाकात के दौरान गोवा इकाई के BJP अध्यक्ष सदानंद तनवड़े भी मौजूद रहेंगे. सावंत ने कहा कि, उनके और BJP के अन्य नेताओं के केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मिलने की संभावना है.

BSP के संस्थापक कांशीराम की 88वीं जयंती : जमीनी नेता थे कांशीराम, जानिए उनके बारे में ?

BJP पहले ही केंद्रीय मंत्रियों नरेंद्र सिंह तोमर और एल मुरुगन को गोवा में विधायक दल के नेता के चयन के लिए पर्यवेक्षक और सह-पर्यवेक्षक नियुक्त कर चुकी है. तोमर और मुरुगन के बुधवार को BJP विधायक दल की बैठक करने की उम्मीद है, जिसमें विधायक दल के नेता का फैसला किया जाएगा.

तनवड़े ने कहा था कि, नयी सरकार 18 मार्च को होली के बाद शपथ लेगी. राज्य की 40 सदस्यीय विधानसभा के लिए हुए चुनाव के 10 मार्च को घोषित परिणाम में BJP ने 20 सीटें जीती हैं. एमजीपी के दो विधायकों और तीन निर्दलीय विधायकों के BJP को समर्थन देने से विधानसभा में पार्टी की स्थिति बेहतर प्रतीत होती है.

उत्तर प्रदेश की सरकार पर मंथन

वहीं यूपी की बात करें तो प्रदेश बीजेपी के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, संगठन मंत्री सुनील बंसल, दोनों डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा आज रात दिल्ली पहुंच रहे हैं. कल सवेरे केयर टेकर सीएम योगी आदित्यनाथ भी आ जाएंगे. इसके बाद योगी मंत्रिमंडल को लेकर कल दोपहर बीजेपी अध्यक्ष जे पी नड्डा, गृह मंत्री अमित शाह, यूपी प्रभारी धर्मेन्द्र प्रधान और संगठन महामंत्री बी एल संतोष के साथ मीटिंग होगी.

कर्नाटक हाईकोर्ट का फैसला : हिजाब पहनना इस्लाम में अनिवार्य नहीं, छात्र यूनिफॉर्म पहनने से मना नहीं कर सकते

योगी पहले ही दिल्ली में पीएम मोदी, अमित शाह समेत बीजेपी के दिग्गज नेताओं से मुलाकात कर चुके हैं. सूत्रों के मुताबिक कहा गया था कि योगी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को शपथ ग्रहण समारोह का न्योता देने गए थे. सूत्रों के मुताबिक 20-21 मार्च को योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश के अगले सीएम के रूप में शपथ ले सकते हैं. योगी के नए मंत्रिमंडल में करीब 57 मंत्री शपथ ले सकते हैं, इसमें 22-24 कैबिनेट मंत्री होने की संभावना जताई जा रही है. वहीं 7-9 मंत्री स्वतंत्र प्रभार हो सकते हैं.

उत्तराखंड को लेकर अहम मीटिंग

इसके अलावा दूसरे प्रचंड जी वाले राज्य उत्तराखंड में भी सरकार बनाने की कवायदों में तेजी आई है. राज्य की सियासी तस्वीर को साफ करने के लिए चल रही बैठक खत्म हो गई है. उत्तराखंड को लेकर बीजेपी में चल रही इस अहम बैठक में कार्यकारी मुख्यमंत्री धामी भी मौजूद थे. उत्तराखंड में सरकार को लेकर दिल्ली में हुए मंथन में जे पी नड्डा, बीएल संतोष, पुष्कर धामी के साथ राज्य के कई नेता शामिल रहे.

अखिलेश यादव ने भाजपा पर बोला हमला : कहा- लोकतंत्र का मूलाधार खतरे में है

रेखा आर्य ने उत्तराखंड में सीएम पद का दावा ठोंका है. उत्तराखंड में नई सरकार का शपथ ग्रहण कब होगा, इसको लेकर फिलहाल कयासों में किसी तारीख का जिक्र नहीं है, हालांकि संभवना जताई जा रही है कि होली के बाद राज्य में नई सरकार बन सकती है.

मणिपुर में कैसी चल रही प्रक्रिया

मणिपुर को लेकर BJP कार्यालय में बैठक शुरू हो गई है. भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा की अध्यक्षता में मीटिंग हो रही है. मणिपुर के कार्यवाहक मुख्यमंत्री बिरेन सिंह, चुनाव प्रभारी भूपेंद्र यादव, प्रदेश प्रभारी संबित पात्रा अन्य बैठक में मौजूद हैं. संगठन मंत्री बीएल संतोष की बैठक में मौजूद हैं. मणिपुर के 60 नवनिर्वाचित विधायकों में से 59 ने सोमवार को राज्य विधानसभा भवन में पद एवं गोपनीयता की शपथ ली.

BSP के संस्थापक कांशीराम की 88वीं जयंती : जमीनी नेता थे कांशीराम, जानिए उनके बारे में ?

विधानसभा के प्रोटेम अध्यक्ष सोरोखैबम राजेन सिंह ने विधायकों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई. राजेन सिंह इंफाल पश्चिम जिले के लमसांग निर्वाचन क्षेत्र से चुने गए हैं. राज्यपाल एल गणेशन ने रविवार को राजभवन में सिंह को पद की शपथ दिलाई.

गौरतलब है कि, विधानसभा चुनाव परिणाम के बाद भारतीय जनता पार्टी के 32 विधायक, नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) के सात, जद (यू) के छह, नगा पीपुल्स फ्रंट (एनपीएफ) और कांग्रेस के पांच-पांच विधायक जबकि दो कुकी पीपुल्स एलायंस (केपीए) के और तीन निर्दलीय विधायक चुन कर आए हैं.

यूपी सरकार का शपथ ग्रहण समारोह होगा भव्य : 2024 के इलेक्शन की दिखेगी छाप

Check Also

उत्तर से लेकर दक्षिण भारत तक लू का कहर

देश की राजधानी दिल्‍ली और एनसीआर समेत पंजाब और राजस्‍थान के कुछ हिस्‍सों में भीषण …