Saturday , May 25 2024

यूपी स्थापना दिवस: 73 साल का हुआ उत्तर प्रदेश, सीएम योगी ने दी शुभकामनाएं, जानें राज्य से जुड़ी कुछ खास बातें ?

लखनऊ। उत्तर प्रदेश आज अपना 73वां स्थापना दिवस मना रहा है. 24 जनवरी के दिन यूपी में स्थापाना दिवस मनाया जाता है. साल 1950 में राज्य को उत्तर प्रदेश का नाम मिला था. यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथने प्रदेशवासियों को इस खास मौके पर बधाई दी. सोमवार को प्रदेश में आचार संहिता का पालन करते हुए स्थापना दिवस मनाया जाएगा.

सीएम ने दी बधाई

उत्तर प्रदेश के स्थापना दिवस पर सीएम योगी ने कहा कि, यूपी आज पहले से कई गुना सुरक्षित है. बीते 5 साल के अंदर भाजपा ने यूपी में कई सारी चीजों में परिवर्तन करने का प्रयास किया है. 73 साल के इस लंबे सफर में यूपी में कई उतार चढ़ाव देखे गए हैं, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में यूपी ने काफी तरक्की की है.

Lucknow IT Raid: आयकर विभाग की गिरफ्त में सुपारी कारोबारी, 34 घंटों से रेड जारी है रेड, जानें अब तक क्या-क्या मिला ?

यूपी देश की आस्था है, लोगों का दिल है. युवा के जोश से भरा हुआ यह प्रदेश है. उन्होंने कहा कि नए भारत का नया उत्तर प्रदेश है. यह सब प्रदेश की जनता के कारण ही हुआ है. मैं सभी लोगों का धन्यवाद करता हूं.

यूपी में हुए हैं कई विकास

उत्तर प्रदेश देश का सबसे अधिक आबादी वाला राज्य है. वर्तमान की बात करें, तो यूपी ने पूरे देश का सारा ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया है. इसकी सबसे पहली और बड़ी वजह है अगले महीने से होने वाले विधानसभा चुनाव, हालांकि यूपी ने देश के लिए कई बड़े योगदान दिए हैं.

Republic Day: दिल्ली में गणतंत्र दिवस को लेकर सुरक्षा के कड़े इंतजाम, 27 हजार से ज्यादा जवान तैनात

यूपी से जुड़ी खास बातें

  1. 1950 में उत्तर प्रदेश का नाम बदला गया था. पहले इस राज्य को संयुक्त प्रांत के नाम से जाना जाता था.
  2. मीडिया रिपोर्टस के अनुसार, सन् 1834 तक यूपी बंगाल प्रेसीडेंसी के अधीन था. पहले तीन प्रेसीडेंसी बंगाल, बॉम्बे और मद्रास थे. एक चौथे प्रेसीडेंसी के गठन की जरूरत महसूस की गई, जिसके बाद चौथी प्रेसीडेंसी का गठन हुआ. जिसे आगरा प्रेसीडेंसी के रूप में जाना जाता है.
  3. इसके बाद सन् 1858 में, लॉर्ड कैनिंग इलाहाबाद यानी की प्रयागराज चले गए. जिसके बाद पश्चिमी प्रांत का गठन हुआ.
  4. सन् 1920 में विधानपरिषद के पहले चुनाव के बाद, लखनऊ में परिषद का गठन किया गया था. 1935 तक पूरा कार्यलय लखनऊ में ट्रांसफर कर दिया गया था.
  5. वर्तमान समय में लखनऊ प्रांत प्रदेश की राजधानी बन गया है.
  6. साल 2017 में यूपी राज्य सरकार द्वारा यूपी दिवस मनाने की घोषणा की थी. इस विचार के बाद साल 2018 में यूपी भारतीय स्वतंत्रता के 68 सालों में पहली लखनऊ में स्थापना दिवस मनाया गया था.
  7. इस साल यानी की 2022 में यूपी दिवस निश्चित रूप से विशेष है, क्योंकि कई सारी राजनीतिक दल यूपी विधानसभा चुनाव 2022 में लड़ने के लिए तैयारी कर रही है.
  8. पिछले 5 सालों में यूपी ने देश के हर वर्ग के लोगों को अपनी ओर आकर्षित किया.
  9. आज यूपी सबसे बड़ा पर्टयन का स्थल बन गया है. वो राम की नगरी अयोध्या हो या फिर बाबा विश्वनाथ की नगरी काशी हो.
  10. प्रदेश की योगी सरकार ने यूपी को पहले के मुकाबले कई गुना अधिक विकास दिया है. हर क्षेत्र में आज यूपी के लोग बढ़कर हिस्सा ले रहें हैं.

कैराना : अमित शाह ने किया डोर-टू-डोर चुनाव प्रचार, योगी सरकार की गिनाई उपलब्धियां

Check Also

प्रियंका गांधी-अखिलेश यादव की आज गोरखपुर में सभा

इंडिया गठबंधन ने सातवें चरण की सीटों के लिए प्रचार पर फोकस बढ़ा दिया है। …