Saturday , June 22 2024

पीएम मोदी ने ‘स्वच्छ भारत मिशन शहरी 2.0’ और ‘अमृत 2.0’ का किया शुभारंभ, कही ये बात

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज ‘स्वच्छ भारत मिशन शहरी 2.0’ और ‘अमृत 2.0’ का शुभारंभ किया है.

भारत को खुले में शौच से मुक्त करने का संकल्प पूरा

इस दौरान कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि, साल 2014 में देशवासियों ने भारत को खुले में शौच से मुक्त करने का संकल्प लिया था. 10 करोड़ से ज्यादा शौचालयों के निर्माण के साथ देशवासियों ने ये संकल्प पूरा किया.

IAS इफ्तेखारुद्दीन के बचाव में औवेसी, कहा- जानबूझकर वीडियो वायरल किया, ये सरकार मुस्लिम विरोधी है

ये है ‘स्वच्छ भारत मिशन-अर्बन 2.0’ का लक्ष्य

अब ‘स्वच्छ भारत मिशन-अर्बन 2.0’ का लक्ष्य गार्बेज फ्री शहर, कचरे के ढेर से पूरी तरह मुक्त शहर बनाना है.

नदियों में कोई गंदा नाला न गिरे, यह सुनिश्चित करना है

पीएम मोदी ने कहा कि, मिशन अमृत के अगले चरण में देश का लक्ष्य सीवेज और सेप्टिक मैनेजमेंट बढ़ाना, अपने शहरों को वॉटर सिक्योर सिटीज बनाना और ये सुनिश्चित करना कि हमारी नदियों में कहीं पर भी कोई गंदा नाला न गिरे.

Punjab Crisis: अमरिंदर सिंह को मुखौटे के रूप में इस्तेमाल करना चाहती है BJP- हरीश रावत

स्वच्छ भारत अभियान और अमृत मिशन की अब तक की यात्रा वाकई हर देशवासी को गर्व से भर देने वाली है. इसमें मिशन भी है, मान भी है, मर्यादा भी है, एक देश की महत्वाकांक्षा भी है और मातृभूमि के लिए अप्रतिम प्रेम भी है.

बाबा साहेब के सपनों को पूरा करने की दिशा में एक कदम

पीएम मोदी ने आगे कहा कि, स्वच्छ भारत मिशन और मिशन अमृत का अगला चरण, बाबा साहेब के सपनों को पूरा करने की दिशा में भी एक अहम कदम है. बाबा साहेब, असमानता दूर करने का बहुत बड़ा माध्यम शहरी विकास को मानते थे.

असमानता को दूर करने पर बाबा साहेब का बड़ा जोर था

ये उन पर एक तरह से दोहरी मार की तरह होता है. एक तो घर से दूर, और ऊपर से ऐसी स्थिति में रहना. इस हालात को बदलने पर, इस असमानता को दूर करने पर बाबा साहेब का बड़ा जोर था.

इन 6 राशियों के लिए बहुत खास रहेगा एक अक्टूबर, बरसेगी भगवान की कृपा, जानिए अपना राशिफल

स्वच्छ भारत मिशन और मिशन अमृत का अगला चरण, बाबा साहेब के सपनों को पूरा करने की दिशा में भी एक अहम कदम है.

सफाई मित्र सच्चे अर्थों में इस अभियान के महानायक

मोदी ने कहा कि, हमारे सफाई मित्र, हर रोज झाड़ू उठाकर सड़कों को साफ करने वाले हमारे भाई-बहन, कूड़े की दुर्गंध को बर्दास्त करते हुए कचरा साफ करने वाले हमारे साथी, सच्चे अर्थों में इस अभियान के महानायक हैं.

UP : अब जेलों में बंद कैदियों के लिए मोबाइल और इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का इस्तेमाल करना होगा अपराध

कोरोना के कठिन समय में उनके योगदान को देश ने करीब से देखा है. निर्मल गुजरात अभियान जब जन-आंदोलन बना था, तो उसके बहुत अच्छे परिणाम भी मिले.

गुजरात को नई पहचान मिली, बढ़ा पर्यटन

इससे गुजरात को नई पहचान तो मिली ही, राज्य में पर्यटन भी बढ़ा. जन-आंदोलन की ये भावना स्वच्छ भारत मिशन की सफलता का आधार है.

UP: पुलिस प्रशासन में बड़ा फेरबदल, सात IPS, 48 PCS अधिकारियों के तबादले

पीएम ने कहा कि, हमें ये याद रखना है कि स्वच्छता, एक दिन का, एक पखवाड़े का, एक साल का या कुछ लोगों का ही काम है, ऐसा नहीं है.

स्वच्छता हर किसी का, हर दिन, हर पखवाड़े, हर साल, पीढ़ी दर पीढ़ी चलने वाला महाअभियान है. स्वच्छता जीवनशैली है, स्वच्छता जीवन मंत्र है.

UP : कारोबारी की हत्या को लेकर एक्शन में योगी, कहा- दोषी पुलिसवाले होंगे बर्खास्त , दिए सख्त निर्देश

Check Also

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के 10 साल की ऐतिहासिक यात्रा पर क्या बोले पीएम मोदी?

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने श्रीनगर में योगाभ्यास …