Tuesday , December 12 2023

UP: निजी सचिव की आत्महत्या के मामले में इंस्पेक्टर और दारोगा निलंबित, सुसाइड नोट में इस बात का जिक्र

लखनऊ। सीनियर आईएएस रजनीश दुबे (Senior IAS Rajneesh Dubey) के निजी सचिव (personal secretary) के खुद को गोली मारने के मामले में पुलिस (Police) ने कार्रवाई की.

कुपोषण से निपटने के लिए हजारों माताओं को मगज के लड्डू बंटवाएंगे- अमित शाह

बता दें कि, निजी सचिव की आत्महत्या मामले में पुलिस को तलाशी के दौरान सुसाइड नोट (Suicide note) मिला था।

मामले में इंस्पेक्टर और दारोगा निलंबित

सुसाइड नोट में बहन के ससुराल वालों से प्रताड़ित किए जाने के साथ ही उन्नाव पुलिस पर भी प्रताड़ना का जिक्र है। उन्नाव एसपी ने वर्तमान एसओ हर प्रसाद अहिरवार और दारोगा तमिज़ुद्दीन को दोषी पाए जाने के बाद निलंबित कर दिया है।

पहली बार सुप्रीम कोर्ट के इतिहास में 9 जजों ने एक साथ ली शपथ

बरामद सुसाइड नोट में इस बात का जिक्र

नोट में उन्नाव के औरास थाने में विशंभर दयाल की बहन का ससुराल वालों से चल रहे विवाद और दर्ज मुकदमे के कारण तनाव का जिक्र किया गया है।

आईजी रेंज लक्ष्मी सिंह को सौंपी गई थी जांच

विशंभर दयाल के लगाए गए आरोपों की जांच आईजी रेंज लक्ष्मी सिंह को सौंपी गई थी। जांच में औरास थाना के एसओ और दारोगा को दोषी पाया गया है।

CM योगी के ड्रीम प्रोजेक्ट ‘फिल्म सिटी’ का सपना जल्द होगा पूरा, इन तीन चरणों में होगा निर्माण

एसपी अविनाश पांडे ने मामले की जांच की

तकरीबन 8 घंटे तक एसपी अविनाश पांडे ने थाने में रुककर पूरे मामले की जांच की है। इसके बाद ही यह कार्रवाई की गई है।

ऑपरेशन के बाद हालत नाजुक

वहीं, लोहिया अस्पताल के सीएमएस डॉ. भटनागर ने बताया कि, विशंभर दयाल के सिर में गोली रह गई थी। इसके बाद उनको आईसीयू में भर्ती किया गया है।

लखनऊ: पुलिस लाइन में DGP और CP ने सीएम को स्मृति चिन्ह देकर किया सम्मानित

लोहिया से रेफर करने का कोई प्लान नहीं है। अभी उनकी हालत गंभीर है। न्यूरो सर्जन के डॉक्टरों की देखरेख में सिर का ऑपेरशन हो गया है। फिलहाल उनकी हालत नाजुक बनी हुई है।

ये है पूरा मामला ?

लखनऊ में बीते सोमवार को सनसनीखेज घटना सामने आई। नगर विकास के अपर मुख्य सचिव रजनीश दुबे के निजी सचिव विश्वंभर दयाल ने दोपहर 1 बजे के करीब खुद को गोली मार ली।

एक दिवसीय लखनऊ दौरे पर राजनाथ सिंह, विकास योजनाओं की देंगे सौगात

बापू भवन के आठवें फ्लोर के रूम नम्बर 824 में यह घटना हुई। दफ्तर के बगल में मौजूद कर्मचारी गोली की आवाज सुनकर वहां पहुंचे। इसके बाद उनको सिविल अस्पताल ले जाया गया, जहां से डॉक्टरों ने उन्हें लोहिया अस्पताल रेफर कर दिया।

Check Also

काशी की धरती से मिशन 2024 का शंखनाद करेंगे पीएम!

पीएम की बरकी में होने वाली जनसभा में भाजपा ने एक लाख लोगों जुटान का …