Saturday , June 22 2024

Tokyo Paralympic:भारत की पैरा शूटर अवनि लेखरा ने निशानेबाजी में जीता गोल्ड, PM ने दी बधाई

नई दिल्ली। पहले टोक्यो ओलंपिक में महिलाओं ने अपना जबरदस्त प्रदर्शन किया. वहीं अब टोक्यो पैरालिंपिक खेलों में भारत की पैरा शूटर अवनि लेखरा ने इतिहास रच दिया है.

UP Cabinet Expansion: केंद्र की तरह योगी मंत्रिमंडल में भी जातीय-क्षेत्रीय संतुलन साधेगी सरकार, शामिल हो सकते ये सात चेहरे

अवनि ने जीता गोल्ड

अवनि ने महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल स्टैंडिंग SH1 इवेंट में नया पैरालिंपिक रिकॉर्ड बनाते हुए गोल्ड पर निशाना साधा है. अवनि ने कुल 249.6 का स्कोर बनाया जो की पैरालिंपिक खेलों का नया रिकॉर्ड है. वहीं पीएम मोदी ने अवनि को बधाई दी.

चीन ने सिल्वर मेडल जीता

चीन की सी झांग (248.9 अंक) ने इस इवेंट का सिल्वर मेडल जबकि यूक्रेन की इरीना स्खेतनिक (227.5 अंक) ने कांस्य पदक अपने नाम किया.

सीएम योगी ने दी श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की शुभकामनाएं, कोविड नियमों का पालन करने की अपील

टोक्यो पैरालिंपिक खेलों में भारत को पहला गोल्ड मिला

टोक्यो पैरालिंपिक खेलों में ये भारत का पहला गोल्ड मेडल है इस से पहले भारत के एथलीटों ने कल दो सिल्वर मेडल अपने नाम किए थे.

अवनि ने किया शानदार प्रदर्शन

अवनि इस इवेंट के क्वालिफिकेशन राउंड में सातवें स्थान पर रही थीं. फाइनल में उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया और गोल्ड मेडल पर कब्जा जमाया.

इसके साथ ही ये टोक्यो पैरालिंपिक में भारत के तीसरा कंफर्म मेडल है. इस से पहले निषाद कुमार ने हाई जंप और भाविना पटेल ने टेबल टेनिस में सिल्वर मेडल जीता था.

आईएफडब्ल्यूजे जनसहयोग से पत्रकारों के लिए बनाएगा कारपस फंड

भारत के एक अन्य पैरा एथलीट विनोद कुमार ने डिस्क्स थ्रो के F52 कैटेगरी में ब्रॉन्ज मेडल जीता था, लेकिन फिलहाल उनका रिजल्ट होल्ड पर रखा गया है.

अवनि को चीन की खिलाड़ी से मिली कड़ी टक्कर

नौ राउंड के इस फाइनल मुकाबले में अवनि को चीनी एथलीट सी झांग से कड़ी टक्कर का सामना करना पड़ा. झांग ने क्वॉलिफिकेशन राउंड में टॉप पोजिशन हासिल की थीं और वो इस मुकाबले में गोल्ड की प्रबल दावेदार थीं.

राष्ट्रपति ने गुरु गोरखनाथ विश्वविद्यालय की रखी आधारशिला, बोले- सिटी ऑफ नॉलेज का हुआ निर्माण

हालांकि अवनि ने अपने अचूक निशानों के दम पर झांग को मात देकर गोल्ड अपने नाम कर लिया. अवनि ने नौ राउंड में 52.0, 51.3, 21.6, 20.8, 21.2, 20.9, 21.2, 20.1, 20.5 के साथ कुल 249.6 का स्कोर बनाया जो की पैरालिंपिक खेलों का नया रिकॉर्ड है.

11 साल की उम्र में हुई थी रोड एक्सिडेंट का शिकार

अवनि राजस्थान के जयपुर की रहने वाली हैं. महज 11 साल की वो एक रोड एक्सीडेंट का शिकार हो गई थीं. इस एक्सीडेंट में अवनि स्पाइनल कॉर्ड इंजरी के चलते पैरालाइज हो गईं थीं. महिलाओं की 10 मीटर एयर राइफल स्टैंडिंग SH1 इवेंट में अवनि विश्व रैंकिंग में पांचवे पायदान पर मौजूद हैं.

लापरवाही से कोरोना का कमबैक, तीसरी लहर का कारण बनेगा केरल?

Check Also

22 जून का राशिफल: धनु, मकर और कुंभ राशि वालों के मान सम्मान में होगी वृद्धि

मेष दैनिक राशिफल (Aries Daily Horoscope) आज का दिन आपके लिए आत्मविश्वास से भरपूर रहने …