Friday , April 19 2024

ओडिशा का ये हिल स्टेशन है गर्मियों में सैर-सपाटे के लिए बेस्ट डेस्टिनेशन

साल 1936 में आज यानी 1 अप्रैल के दिन ओडिशा को एक अलग राज्य के रूप में मान्यता दी गयी थी, जिसके बाद से हर साल इस दिन को ओडिशा दिवस या ‘उत्कल दिवस’ के रूप में मनाया जाता है। उड़ीसा का नाम 2011 में बदलकर ओडिशा कर दिया गया था। तरह-तरह के सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन कर इस दिन का जश्न मनाया जाता है।

वैसे ओडिशा अपने साफ-सुथरे समुद्री तटों, खानपान और संस्कृति के लिए जाना जाता है, लेकिन यहां और भी काफी कुछ है एक्सप्लोर करने के लिए। अगर आप एडवेंचर पसंद हैं या नेचर के साथ वक्त बिताना पसंद हैं, तो यहां ऐसे ही ठिकानों की कोई कमी नहीं, लेकिन आज हम आपको यहां के ऐसे हिल स्टेशन की सैर पर ले चलेंगे, जिसकी खूबसूरती है बेमिसाल। इसका नाम है दरिंगबाड़ी।

दरिंगबाड़ी
दरिंगबाड़ी ओडिशा के कंधमाल जिले में बसा है। देवदार के घने जंगलों से घिरी यह जगह बेहद खूबसूरत है। माना जाता है कि डेरिंग नाम के एक ब्रिटिश अधिकारी की नज़र सबसे पहले इस जगह पर पड़ी थी और उसी के नाम पर इसका नाम डेरिंगबाड़ी पड़ा। जो बाद में बदलकर दरिगंबाड़ी हो गया है। इस जगह अंग्रेज गर्मियों की छुट्टियां बिताने आते थे।

दरिंगबाड़ी में लोगों की भीड़ कम ही देखने को मिलती है। यह हिल स्टेशन पहाड़ियों से बीचों-बीच है जिस वजह से यहां का मौसम सुहावना रहता है। दरिंगबाड़ी पहुंचने का रास्ता भी बेहद शानदार है। रास्ते में आपको कॉफी और मसालों के बागान मिलेंगे। इसी वजह से इस जगह को “ओडिशा का कश्मीर” भी कहा जाता है।

दरिंगबाड़ी में घूमने वाली जगहें
बेलघर अभ्यारण्य
दरिंगबाड़ी में बलघर अभ्यारण्य उन लोगों को जरूर पसंद आएगी, जो नेचर और जानवरों से प्यार करते हैं। कई तरह के जंगली जानवरों के साथ यहां हाथी भी देखे जा सकते हैं।

वाटरफॉल
दरिंगबाड़ी में प्राकृतिक नजारे ज्यादा देखने को मिलेंगे। यहां आएं तो मदुबंडा और बादंगिया झरना भी देखने वाली अच्छी जगहे हैं। कई प्रकार के पेड़ों, फूलों से भरी हुई है यह जगह। जहां आप शांति से कुछ वक्त बिता सकते हैं।

लवर्स प्वाइंट
लवर्स प्वाइंट नाम से ही क्लियर हो रहा होगा, लेकिन यहां आसपास फैली हरियाली और खूबसूरती मन को मोहने का कोई मौका नहीं छोड़ती।

कब जाएं?
वैसे तो आप कभी भी दरिंगबाड़ी आने का प्लान कर सकते हैं, लेकिन हिल स्टेशन्स घूमने का असली मजा गर्मियों में ही आता है। सर्दियों में घूमना मुश्किल हो सकता है और मानसून में खतरनाक।

कैसे पहुंचें दरिंगबाड़ी?
हवाई मार्ग- यहां तक पहुंचने का निकटतम हवाई अड्डा भुवनेश्वर है। भुवनेश्वर से, दरिंगबाड़ी के लिए कैब्स चलती हैं।

रेल मार्ग- यहां का निकटतम रेलवे स्टेशन बेरहामपुर है। बरहामपुर से दरिंगबाड़ी के लिए आसानी से टैक्सी मिल जाएंगी।

Check Also

गर्मियों में पेट को ठंडा और बॉडी को हाइड्रेट रखने में बेस्ट हैं ये 3 ड्रिंक्स

गर्मियों में बॉडी को हाइड्रेट रखना बहुत जरूरी है क्योंकि डिहाइड्रेशन से कई तरह की …