Thursday , April 18 2024

छत्तीसगढ़: कांकेर जिले में सुरक्षा बलों ने मारा दो इनामी नक्सली 

बस्तर के कांकेर जिले में सोमवार को एक मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने 13 लाख रुपये के इनामी दो नक्सलियों को मार गिराया। मारे गए कैडरों की पहचान सीपीआई (माओवादी) की उत्तर बस्तर डिवीजन कमेटी के सदस्य दर्शन पड्डा (32) और माओवादियों की एक्शन टीम के कमांडर जागेश सलाम (23) के रूप में की गई है। दर्शन पड्डा माओवादियों की परतापुर एरिया कमेटी का सचिव था। दोनों नक्सलियों के सर पर था इनाम  कांकेर के पुलिस अधीक्षक शलभ सिन्हा ने बताया कि नक्सली दर्शन पड्डा पर 8 लाख रुपये का इनाम था। पड्डा नक्सलियों का वरिष्ठ कैडर था और उत्तरी बस्तर में माओवादी हिंसा के लगभग 39 से 40 मामलों का आरोपी था। वहीं जागेश सलाम भी कई मामलों में वांछित था। जागेश सलाम पर 5 लाख रुपये का इनाम था। सुरक्षा बलों पर फायरिंग  मुठभेड़ सोमवार सुबह सिकसोद थाना अंतर्गत कदमे गांव के जंगल में हुई। पुलिस अधिकारी ने बताया- हमें सूचना मिली थी कि वरिष्ठ माओवादी कार्यकर्ता एक गांव में जमा हो रहे हैं। इसके बाद जिला रिजर्व गार्ड (DRG) और सीमा सुरक्षा बल (BSF) की दो टीमें नक्सल विरोधी इस अभियान में गईं। डीआरजी का गश्ती दल जब कदमे गांव के पास पहुंचा तो माओवादियों ने टीम पर गोलियां चला दीं। भारी मात्रा में गोला-बारूद बरामद पुलिस अधिकारी के मुताबिक नक्सलियों की फायरिंग के बाद सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई की। मुठभेड़ के खत्म होने के बाद मौके से दो माओवादियों के शव बरामद किए गए। पुलिस ने मौके से एक 315 बोर की राइफल, एक देशी पिस्तौल और भारी मात्रा में गोला-बारूद बरामद किया। मुठभेड़ के दौरान कुछ नक्सली फरार होने में कामयाब रहे। पुलिस की टीम मौके पर तलाशी अभियान चला रही है। छत्तीसगढ़ का कांकेर जिला नक्सल प्रभावित माना जाता है।

Check Also

चुनाव आयोग ने दिए मुर्शिदाबाद के DIG को हटाने के निर्देश

चुनाव आयोग ने बताया कि एक मार्च से अबतक हर दिन 100 करोड़ रुपये जब्त …