Saturday , July 13 2024

बिहार: महाराजगंज में भाजपा समर्थक की हत्या, घर पर पार्टी का झंडा लगाया था

घटना के बाद परिजन आक्रोशित हो गए और विरोध करने लगे। परिजनों ने चौकीदार पर रसूलपुर के थानाध्यक्ष सहित कई अन्य पर पक्षपात का आरोप लगाया गया है।

लोकसभा चुनाव के बाद मतगणना भी संपन्न हो गया है। महाराजगंज लोकसभा क्षेत्र (सारण जिला) में में दो पार्टियों के बीच मुकाबले में भाजपा की जीत हुई। लेकिन, दोनों पार्टियों के समर्थकों के बीच विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा। आज एक भाजपा समर्थक की हत्या कर दी गई। कारण बस इतना था कि उसने अपने घर पर लगे पार्टी के झंडे को हटाने से मना किया था। इतनी सी बात पर विरोधियों ने चाकू गोदक उसकी हत्या कर दी। आननफानन में उसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया। यहां इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया। घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया। आसपास के लोगों की भीड़ लग गई।

इधर, सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और जांच में जुट गई। हालांकि, घटना के बाद परिजन आक्रोशित हो गए और विरोध प्रदर्शन करने लगे। परिजनों ने चौकीदार पर रसूलपुर के थानाध्यक्ष सहित कई अन्य पर पक्षपात का आरोप लगाया गया है। झंडा हटाने को लेकर उत्पन्न विवाद में चाकूबाजी की घटना में एक युवक की जान गवानी पड़ गई है। घर पर लगे चुनावी झंडे को जबरदस्ती उतारने को लेकर हुए विवाद में चाकू गोदकर युवक की हत्या कर दिए जाने का मामला सामने आया है। महाराजगंज लोकसभा चुनाव में कांग्रेस समर्थको पर हत्या का आरोप लगाया गया है।

युवक को चाकू गोद कर मार डाला
लोगों का कहना है कि चुनावी झंडे को हटाने को लेकर उपजा विवाद इस कदर तक हावी हो जाएगा। इसका अंदाजा किसी को नही था। लेकिन जो घटना हुई है वह सुन कर आपके भी होश उड़ जाएंगे। क्योंकि मामूली सी विवाद को लेकर युवक को चाकू गोद कर मार डाला। घटना रसूलुपर थाना क्षेत्र के चपरैठा गांव की बताई जा रही है। मृतक की पहचान स्थानीय गांव निवासी सुजीत कुमार गिरी के रूप में हुई है।

चुनाव के पूर्व से विवाद चल रहा था
घटना के संबंध में मृतक के परिजनों ने बताया कि युवक ने भाजपा का झंडे को अपने घर की छत पर लगया था। इसे लेकर चुनाव के पूर्व से विवाद चल रहा था। आज पुनः दबंगो ने भाजपा कार्यकत्ताओं पर चाकू से बार कर दिया, जिसमें एक की मौत हो गयी है। घटना की सूचना मिलने पर एकमा पुलिस अस्पताल पहुंची तो परिजन पुलिस से उलझ गए और सरेआम चौकीदार और थानाध्यक्ष पर धमकी देकर केश वापस कराने का आरोप लगाने लगे। हालांकि, पुलिस के लिखित शिकायत के बाद कार्रवाई का भरोसा दिया गया तो मामला शांत हुआ। इसके बाद पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है।

 

Check Also

वाराणसी: सपा नेता विजय यादव के घर में घुसकर ताबड़तोड़ की फायरिंग

वाराणसी के दशाश्वमेध थाना क्षेत्र में रविवार की दोपहर किसी विवाद को लेकर गोली चल …