Wednesday , May 22 2024

उत्तराखंड की कवियित्री ने प्रधानमंत्री की लिखी कविताओं का किया गढ़वाली में अनुवाद

चुनाव प्रभारी दुष्यंत गौतम ने सुजाता डबराल नौडियाल के पीएम मोदी की लिखी कविताओं के गढ़वाली भाषा में अनुवाद के प्रयोग की सराहना की और कवियित्री काे शुभकामनाएं दीं।

उत्तराखंड की सुजाता डबराल नौडियाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लिखी कविताओं के संग्रह का अनुवाद गढ़वाली में किया। चुनाव प्रभारी दुष्यंत गौतम ने बुधवार को प्रदेश पार्टी कार्यालय में उनकी इस पुस्तक आंखा यो धन छन का विमोचन किया।

पार्टी कार्यालय में आयोजित प्रबुद्ध जन सम्मेलन के दौरान चुनाव प्रभारी दुष्यंत गौतम ने गढ़वाली भाषा में अनुवाद के प्रयोग की सराहना की और कवियित्री काे शुभकामनाएं दीं। सुजाता ने बताया, उनके पति अरविंद नौडियाल जो ओएनजीसी में वरिष्ठ अधिकारी पद पर हैं के साथ गुजरात और मुंबई में थी। उस दौरान उनका परिचय उन लोगों से हुआ जो पीएम मोदी की कविताओं का हिंदी व अन्य भाषाओं में अनुवाद कर रहे थे।

तब उनके मन में इन कविताओं का गढ़वाली में अनुवाद करने का विचार आया। अब तक कुमाऊंनी, नेपाली, मराठी, पंजाबी सहित भारत की लगभग 25 भाषाओं में इस पुस्तक का अनुवाद हो चुका है। सुजाता डबराल नौडियाल पौड़ी जिले के तिमली गांव की रहने वाली हैं।

 

Check Also

उत्तराखंड: देशभर में लागू होंगे एक जुलाई से ये तीन नए कानून

एक जुलाई से लागू होने वाले तीन नए कानून को लेकर उत्तराखंड की पूरी तैयारी …