Sunday , July 21 2024

कुमाऊं के साथ ही चमोली, पौड़ी समेत कई जिलों में भारी से भारी बारिश का अलर्ट जारी

उत्तराखंड में अगले चार दिन भारी से भारी बारिश का पूर्वानुमान जारी किया गया। नैनीताल, चंपावत, ऊधमसिंहनगर के लिए रेड और बाकी जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। दूसरी ओर, गुरुवार को भी कई जिलों में भारी और मध्यम बारिश दर्ज की गई। मौसम निदेशक डॉ. बिक्रम सिंह ने बताया कि कुमाऊं के साथ ही चमोली, पौड़ी समेत कई जिलों में भारी से भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। 14, 15, 16, 17 जुलाई को प्रदेशभर में भारी बारिश की आशंका है। 18 से करीब एक सप्ताह तक बारिश से राहत रहेगी। लोगों से अपील है कि वे खराब मौसम में यात्रा टालें और सुरक्षित स्थानों पर रहें। इस दौरान नदियों में उफान या रास्ते बंद हो सकते हैं। प्रिंसिपल खुद घोषित कर सकेंगे छुट्टी अब भारी बारिश या किसी अन्य आपदा की स्थिति को देखते हुए प्रिंसिपल खुद ही स्कूल बंद रखने का निर्णय ले सकेंगे। इसके लिए अब जिला प्रशासन की अनुमति की जरूरत नहीं पड़ेगी। देहरादून के मुख्य शिक्षा अधिकारी प्रदीप कुमार ने इसके आदेश जारी कर दिए हैं। आदेश के अनुसार 20 जुलाई तक सरकारी, अशासकीय और निजी स्कूलों के प्रिंसिपल या संकायाध्यक्ष भारी बारिश या मौसम खराब की स्थिति में स्कूल बंद कर सकेंगे। आपदा से बचाव के लिए प्रशासन अलर्ट देहरादून की डीएम सोनिका ने गुरुवार को आपदा प्रबंधन केंद्र का निरीक्षण किया। उन्होंने जिलेभर में अतिवृष्टि से नुकसान की जानकारी भी ली। वहीं, अफसरों को सक्रियता से काम करने को निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि ज्यादा बारिश एवं भूस्खलन की स्थिति में क्षेत्र के एसडीएम भी स्कूलों की छुट्टी पर फैसला ले सकते हैं। डीएम ने सभी अफसरों को आपसी समन्वय से जिले में आपदा के समय काम करने के लिए निर्देशित किया। वहीं, सड़कों के बंद होने पर तत्काल राहत बचाव के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अफसर सड़क बंद होने पर तत्काल इसकी सूचना पुलिस और आपदा प्रबंधन को दें। आईआरएस से जुड़े सभी अधिकारी,कर्मचारियों को सक्रियता बढ़ाने को भी कहा।

Check Also

वाराणसी: सपा नेता विजय यादव के घर में घुसकर ताबड़तोड़ की फायरिंग

वाराणसी के दशाश्वमेध थाना क्षेत्र में रविवार की दोपहर किसी विवाद को लेकर गोली चल …