Saturday , April 20 2024

कोरोना के नए वेरिएंट को ले कर अलर्ट हुई उत्तराखंड सरकार…

चीन में लगातार बढ़ते मामलों के लिए जम्मिेदार ओमीक्रोन के सब-वेरिएंट बीएफ.7 के तीन मामले भारत में भी सामने आए हैं। वहीं, इसके मद्देनजर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने बुधवार को देश में कोरोना की स्थिति की समीक्षा की। अधिकारियों को सजग रहने और निगरानी तंत्र मजबूत करने को कहा।
चीन सहित दुनिया के कई देशों में कोरोना संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी को देखते हुए उत्तराखंड सरकार सतर्क हो गई है। सचिव स्वास्थ्य डॉ.आर राजेश कुमार की ओर से सभी सीएमओ को अलर्ट रहने और कोविड पॉजिटिव मरीजों के 10 प्रतिशत सैंपल की जीनोम सीक्वेंसिंग करने के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही लोगों से कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने को कहा गया है। केंद्र सरकार की ओर से एक दिन पूर्व ही कोरोना संक्रमण को लेकर एडवायजरी जारी की गई है। जिसमें सभी राज्यों को संक्रमण के स्तर और वायरस के म्यूटेशन पर नजर रखने को कहा गया है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण की ओर से भेजे गए पत्र के बाद अब राज्य सरकार की ओर से सभी सीएमओ को इस संदर्भ में अलर्ट किया गया है। सचिव स्वास्थ्य डॉ. आर राजेश कुमार ने बताया कि राज्य में मिलने वाले कुल कोविड पॉजिटिव मरीजों में से 10 प्रतिशत सैंपल जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजे जाएंगे। राज्य में अभी दून मेडिकल कॉलेज और अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेज में जीनोम सीक्वेंसिंग की सुविधा है और सभी जिलों को अपने पॉजिटिव सैंपल दोनों लैब में भेजने को कहा गया है। सचिव स्वास्थ्य ने राज्य के आम लोगों को कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करने की सलाह दी है। उन्होंने कहा कि मास्क, सेनेटाइजेशन और सामाजिक दूरी का पालन अनिवार्य रूप से किया जाए। चीन का घातक वेरिएंट भारत पहुंचा सूत्रों ने बुधवार को कहा कि गुजरात जैव प्रौद्योगिकी अनुसंधान केंद्र ने ओमीक्रोन के सब-वेरिएंट बीएफ.7 के पहले मामले का पता लगाया था। प्रदेश में दो मामले मिले हैं। एक अन्य मामल ओडिशा में सामने आया है। सूत्रों का कहना है कि मौजूदा और उभरते स्वरूपों पर नजर रखने के लिए निरंतर निगरानी की जरूरत है।

Check Also

उत्तराखंड: विदाई से पहले वोट डालने पहुंची दुल्हन

लोकसभा चुनाव के पहले चरण के तहत आज उत्तराखंड में मतदान किया जा रहा है। …