Sunday , June 16 2024

दिल्ली के वायु गुणवत्ता में हुआ सुधार, AQI हुआ 197

दिल्ली में गुरूवार की सुबह पिछले 2 साल में सबसे साफ हवा रही। लगातार तीसरे दिन AQI माध्यम श्रेणी में बना हुआ है। आज सुबह 7 बजे AQI 197 दर्ज किया गया। बुधवार की शाम 4 बजे AQI 163 मध्यम श्रेणी में दर्ज किया गया था। दिल्ली में चल रही तेज हवाओं के असर से वायु गुणवत्ता में सुधार हुआ है जिससे दिल्ली का AQI 2020 के बाद पिछले 2 साल में पहली बार दिसंबर में मॉडरेट(माध्यम) कैटगरी में दर्ज किया गया है।
बीते 3 दिनों से वायु गुणवत्ता का बढ़ा हुआ स्तर आगम कुछ दिनों में फिर से प्रभावित हो सकता है। ASAR पूर्वानुमान के अनुसार आज दिन भर AQI के मध्यम श्रेणी में रहने की उम्मीद है लेकिन शुक्रवार से यह ‘खराब’ श्रेणी में और शनिवार तक ‘बहुत खराब’ श्रेणी में पहुंच जाएगा। कल से फिर खराब होगी वायु गुणवत्ता बेहतर वेंटिलेशन की स्थिति 14 से 15 दिसंबर तक रहने की संभावना है। आज हवा की गुणवत्ता में मामूली गिरावट के आसार हैं लेकिन यह ‘मध्यम’ श्रेणी में रहेगी, लेकिन 16 दिसंबर को एयर क्वालिटी ‘खराब’ और 17 दिसंबर को हवा की गुणवत्ता और खराब होने की संभावना जताई गयी है। अर्ली वार्निंग सिस्टम (ईडब्ल्यूएस) पूर्वानुमान के अनुसार एनसीआर में शुक्रवार के बाद छह दिनों तक एक्यूआई के ‘बहुत खराब’ रहने की संभावना है। 17 दिसंबर से हवा में पॉल्यूटेंट्स के बढ़ने से एयर क्वालिटी प्रभावित होगी। मौसम की स्थिति विशेष रूप से रात में हवा की गति में गिरावट से भी AQI बहुत खराब श्रेणी में पहुंच सकता है। सीपीसीबी के मुताबिक AQI 0-50 के बीच ‘अच्छा’, 51 से 100 के बीच ‘संतोषजनक’, 101 से 200 के बीच ‘मध्यम’, 201 से 300 के बीच ‘खराब’, 301 से 400 के बीच ‘बेहद खराब’ श्रेणी में माना जाता है। 400 से अधिक वायु गुणवत्ता सूचकांक  ‘गंभीर’ के रूप में दर्ज किया जाता है। पश्चिमी विक्षोभ के असर से सुधरी एयर क्वालिटी आईएमडी के वैज्ञानिक आरके जेनामणि ने बताया कि 11 दिसंबर तक उत्तर भारत में पश्चिमी विक्षोभ के असर से हवा की गति तेज हो गई थी। जिसके बाद 12 दिसंबर से बेहतर वेंटिलेशन और पॉल्यूटेंट्स का फैलाव हुआ। 12 दिसंबर को दिल्ली का एक्यूआई 218 (खराब) था। जिसके बाद 13 दिसंबर को AQI में सुधार दर्ज किया गया। वहीं बुधवार 14 दिसंबर की शाम AQI 163 दर्ज किया गया। 2 साल बाद दिसंबर में मध्यम श्रेणी में पहुंचा AQI अक्टूबर की शुरुआत के बाद से दिल्ली में अब जाकर सबसे साफ हवा दर्ज की गई है। बारिश के चलते अक्टूबर की शुरुआत में इस साल अंतिम बार AQI मॉडरेट(माध्यम वर्ग) में दर्ज किया गया था। 14 अक्टूबर को AQI 154 के साथ इस साल दिल्ली में सबसे साफ हवा रही थी। जिसके बाद से अब जाकर AQI मॉडरेट स्थिति में पहुंचा है। दिसंबर के महीने में पिछले 2 सालों में पहली बार AQI मॉडरेट स्थिति में दर्ज किया गया है। आज बढ़ सकती है ठंड बुधवार को अधिकतम तापमान 24.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो साल के इस समय के लिए सामान्य से एक डिग्री अधिक है। जबकि न्यूनतम तापमान 10.0 डिग्री दर्ज किया गया, जो सामान्य से एक डिग्री अधिक है। आज के पूर्वानुमान से पता चलता है कि तापमान न्यूनतम 8 डिग्री के करीब लौटने की संभावना है, जबकि अधिकतम 25 डिग्री के आसपास रहेगा।

Check Also

दिल्ली मेट्रो के फेज-4 के सभी प्रोजेक्ट ट्रैक पर

फेज चार के अंतिम कॉरिडोर रिठाला-कुंडली मेट्रो को केंद्रीय वित्त मंत्रालय के पब्लिक इन्वेस्टमेंट बोर्ड …