Tuesday , June 25 2024

झारखंड सरकार का सूखाग्रस्त प्रभावित क्षेत्रों के किसान परिवारों को तौफ़ा, जानें क्या

झारखंड के 22 जिलों के 226 प्रखंडों को राज्य सरकार ने सूखाग्रस्त घोषित किया है। इन प्रखंडों के प्रभावित 30 लाख किसान परिवारों को सूखा राहत राशि के रूप में सरकार 35-3500 रुपए देगी। यह फैसला शनिवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की अध्यक्षता में हुई झारखंड राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकार की समीक्षा बैठक में लिया गया। बैठक में सुखाड़ को लेकर कृषि विभाग की ओर से तैयार प्रतिवेदन पर मुख्यमंत्री ने अधिकारियों के साथ विचार-विमर्श किया। सीएम ने कहा है कि सूखाग्रस्त 226 प्रखंडों में प्रति किसान परिवार तत्काल राहत के लिए 3500 रुपए दिए जाएंगे। यह राशि हर प्रभावित किसान परिवारों को देने का निर्देश दिया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के लगभग 30 लाख से अधिक किसान परिवार सूखे की चपेट में हैं, जिन्हें इसका लाभ मिलेगा। सूखा राहत राशि देने पर राज्य सरकार 1200 करोड़ रुपए खर्च करेगी। मुख्यमंत्री ने यह घोषणा 22 जिलों (पूर्वी सिंहभूम एवं सिमडेगा छोड़कर) के 226 प्रखंडों के प्रभावित किसान परिवारों को बड़ी राहत देने के लिए की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कृषि विभाग के आकलन प्रतिवेदन के अनुसार 22 जिलों के 226 प्रखंड सूखे की चपेट में है। ऐसे में राज्य सरकार की नैतिक जिम्मेदारी है कि प्रभावित किसान परिवारों को तत्काल सूखा राहत राशि उपलब्ध कराई जाए। बैठक में आपदा प्रबंधन मंत्री बन्ना गुप्ता, कृषि मंत्री बादल, मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, विकास आयुक्त अरुण कुमार सिंह आदि शामिल हुए।

Check Also

असम राइफल्स और मणिपुर पुलिस की बड़ी कार्रवाई, थौबल जिले में चलाया संयुक्त अभियान

असम राइफल्स और मणिपुर पुलिस द्वारा मणिपुर के थौबल जिले में चलाए गए संयुक्त अभियान …