Friday , May 24 2024

पंजाब में मान के 10 मंत्रियों ने ली शपथ, पहली बैठक में 25 हजार पदों पर भर्ती का एलान

पंजाब की नई भगवंत मान सरकार के मंत्रिमंडल का गठन हो गया है। कैबिनेट में 10 मंत्रियों को शामिल किया गया है। इसके बाद मंत्रिमंडल की बैठक हुई। मंत्रिमंडल में कई अहम फैसलों पर चर्चा हुई है।

राज्यपाल ने 10 विधायकों को मंत्री पद की शपथ दिलाई.

हरपाल सिंह चीमा
दिड़बा विधानसभा सीट से लगातार दूसरी बार विधायक बने हरपाल सिंह चीमा विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता रहे हैं. चीमा पेशे से वकील रहे हैं और आम आदमी पार्टी के साथ शुरू ही जुड़े रहे हैं. वे आम आदमी पार्टी के बड़े दलित चेहरे माने जाते हैं.

डॉक्टर बलजीत कौर
डॉक्टर बलजीत कौर आम आदमी पार्टी के पूर्व सांसद साधु सिंह की बेटी हैं. डॉक्टर बलजीत कौर मलोट विधानसभा सीट से विधायक निर्वाचित हुई हैं. डॉक्टर बलजीत कौर पेशे से नेत्र रोग विशेषज्ञ हैं.

हरभजन सिंह ईटीओ
हरभजन सिंह ईटीओ को भी भगवंत मान ने अपने मंत्रिमंडल में शामिल किया है. हरभजन सिंह ईटीओ जंडियाला विधानसभा सीट से विधायक निर्वाचित हुए हैं. हरभजन सिंह 2012 में ईटीओ बने थे और 2017 में स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति लेकर आम आदमी पार्टी में शामिल हो गए थे.

डॉक्टर विजय सिंगला
मानसा से विधायक निर्वाचित हुए डॉक्टर विजय सिंगला ने प्रसिद्ध पंजाबी गायक और कांग्रेस उम्मीदवार सिद्धू मूसेवाला को मात दी थी. वे पेशे से डेंटल सर्जन हैं.

लालचंद कटारूचक्क
लालचंद कटारूचक्क भोआ विधानसभा सीट से विधानसभा चुनाव जीते हैं. वे काफी समय से समाजसेवा में सक्रिय रहे हैं और पहली दफे ही चुनाव जीतकर विधानसभा पहुंचे हैं. लालचंद कटारूचक ने कांग्रेस के दिग्गज नेता जोगिंदर पाल को मात दी थी.

ब्रह्मशंकर जिम्पा
ब्रह्मशंकर जिम्पा ने होशियारपुर सीट से चुनाव जीता. उन्होंने चन्नी सरकार के मंत्री सुंदर अरोड़ा को मात दी थी. ब्रह्मशंकर अपना व्यापार करते हैं. वे छात्र जीवन से ही राजनीति में सक्रिय रहे. ब्रह्मशंकर 25 साल पार्षद भी रहे हैं.

कुलदीप सिंह धालीवाल
अजनाला सीट से विधायक बने कुलदीप सिंह धालीवाल सात साल पहले आम आदमी पार्टी से जुड़े थे. वे बागवानी करते हैं. कुलदीप सिंह धालीवाल के खिलाफ हत्या का मामला भी दर्ज है. धालीवाल अपने गांव में हाशिम शाह का मेला आयोजित करवाते रहे हैं जिसमें पंजाब के कलाकार हिस्सा लेते थे.

गुरमीत सिंह मीत हेयर
गुरमीत सिंह मीत हेयर लगातार दूसरी बार बरनाला से विधायक बने हैं. वे बीटेक की पढ़ाई करने के बाद सिविल सर्विसेज की तैयारी करने दिल्ली चले गए थे. गुरमीत दिल्ली में अन्ना हजारे के भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन से जुड़े और बाद में आम आदमी पार्टी में शामिल हो गए. 32 साल के मीत हेयर दूसरी बार विधायक निर्वाचित हुए हैं.

हरजोत सिंह बैंस
हरजोत सिंह बैंस श्रीआनंदपुर साहिब विधानसभा सीट से विधायक हैं. हरजोत सिंह बैंस ने पिछली सरकार के दौरान पंजाब विधानसभा के स्पीकर रहे राणा केपी सिंह को मात दी थी. लंदन से पढ़े हरजोत सिंह वकील हैं. पिछली बार वे साहनेवाल से चुनाव लड़े थे लेकिन हार गए थे. हरजोत आम आदमी पार्टी की यूथ विंग के अध्यक्ष भी हैं.

लालजीत भुल्लर
लालजीत भुल्लर ने पट्टी सीट से आदेश प्रताप सिंह कैरों को मात दी थी. कैरों, पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के दामाद हैं. पट्टी की अनाज मंडी में आढ़त का काम करने वाले लालजीत सिंह भुल्लर किसी समय कैरों के करीबी हुआ करते थे.

25 हजार पदों पर तत्काल भर्ती को मंजूरी

मंत्रिमंडल ने 25 हजार पदों पर तत्काल भर्ती को मंजूरी दे दी है। बोर्ड, कारपोरेशन और सरकारी दफ्तरों में खाली पड़े पदों को भरा जाएगा। मंत्रिमंडल ने तीन महीने का वोट आन अकाउंट लेने का फैसला किया है। बजट जून महीने में पेश किया जाएगा। कैबिनेट ने सप्लीमेंट्री ग्रांट्स को भी मंजूरी दे दी है।

Check Also

23 मई का राशिफल

मेष  आज के  दिन की शुरुआत थोड़ा कमजोर रहेगी। आप अपने खर्च लायक धन कमाने …