Friday , June 14 2024

बजट वेबिनार में बोले पीएम मोदी, रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भरता पर बल दे रहा है भारत

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बजट वेबिनार को संबोधित कर रहे हैं. इस वेबिनार का शीर्षक ‘रक्षा में आत्मानिर्भर’ है. कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि, बीते कुछ सालों से भारत अपने रक्षा क्षेत्र में जिस आत्मनिर्भरता पर बल दे रहा है. उसका कमिटमेंट आपको इस साल के बजट में भी दिखेगा.

Russia Ukraine War : यूक्रेन में रूसी सेना के हमले, अब तक 137 की मौत, 40 मिनट में ‘तीन दर्जन मिसाइलें’ दागी गई

उन्होंने कहा कि, गुलामी के कालखंड में भी और आजादी के तुरंत बाद भी हमारी डिफेंस मैन्यूफेक्चरिंग की ताकत बहुत थी.

रक्षा बजट में 70% सिर्फ घरेलू इंडस्ट्री के लिए रखा गया

पीएम मोदी ने कहा, ‘इस साल के बजट में देश के भीतर ही रिसर्च, डिज़ाइन और डवलपमेंट से लेकर मैन्युफेक्चरिंग तक का एक वाइब्रेंट इकोसिस्टम विकसित करने का ब्लूप्रिंट है. रक्षा बजट में लगभग 70% सिर्फ घरेलू इंडस्ट्री के लिए रखा गया है. मैं देश की सेनाओं की भी सराहना करूंगा कि, वो भी डिफेंस सेक्टर में भारत की आत्मनिर्भरता का महत्व समझते हुए बड़े निर्णय लेते हैं.

गुजरात से आए प्रमुख लोगों ने अखिलेश यादव से की मुलाकात, PM मोदी के गुजरात मॉडल को बताया झूठ का मॉडल

उन्होंने कहा कि, जब हम बाहर से अस्त्र-शस्त्र लाते हैं, तो उसकी प्रक्रिया इतनी लंबी होती है कि जब वो हमारे सुरक्षाबलों तक पहुंचते हैं, तब तक उसमें से कई Outdated हो चुके होते हैं. इसका समाधान भी ‘आत्मनिर्भर भारत अभियान’ और ‘मेक इन इंडिया’ में ही है.

भारत की IT की ताकत हमारा बहुत बड़ा सामर्थ्य

पीएम मोदी ने आगे कहा, आज हमारी फौज के पास भारत में बने साजो-सामान होते हैं तो उनका आत्मविश्वास, उनका गर्व भी नई ऊंचाई पर पहुंचता है. इसमें हमें सीमा पर डटे जवानों की भावनाओं को भी समझना चाहिए. भारत में बनी चीजों को लेकर सैनिकों में अलग स्वाभिमान होता है.

Russia-Ukraine War: यूक्रेन ने रूस के 800 सैनिकों को मारने का किया दावा, लोगों को घरों और होटलों से बाहर न निकलने के निर्देश

इसलिए हमें हमारे रक्षा उपकरणों के लिए अपने सैनिकों की भावना का आदर करना चाहिए. ये हम तभी कर सकते हैं जब हम आत्मनिर्भर होंगे. भारत की जो IT की ताकत है, वो हमारा बहुत बड़ा सामर्थ्य है. इस ताकत को हम अपने रक्षा क्षेत्र में जितना ज्यादा इस्तेमाल करेंगे, उतनी ही सुरक्षा में हम आश्वस्त होंगे.

राष्ट्र की सुरक्षा का विषय बन चुका है सायबर सेक्योरिटी

पीएम मोदी ने कहा, जैसे सायबर सेक्योरिटी अब सिर्फ डिजिटल वर्ल्ड तक सीमित नहीं रह गई है. ये राष्ट्र की सुरक्षा का विषय बन चुका है. पहले के समय में बाहर की कंपनियों से जो सामान खरीदा जाता था, उसमें अक्सर भांति-भांति के आरोप लगते थे. हर खरीदे से विवाद पैदा होता था. अलग-अलग manufacturer के बीच जो कंपीटिशन होता है, उससे भ्रष्टाचार के दरवाजे भी खुलते हैं. आत्मनिर्भर भारत अभियान से हमें इसके भी समाधान मिलते हैं.

मायावती को झटका : बसपा छोड़ समाजवादी पार्टी में शामिल हुए कई नेता

Check Also

लेफ्टिनेंट जनरल उपेंद्र द्विवेदी होंगे अगले सेना प्रमुख

सरकार ने लेफ्टिनेंट जनरल उपेंद्र द्विवेदी को अगला सेना प्रमुख नियुक्त किया है। वह मौजूदा …