Saturday , May 18 2024

जम्मू-कश्मीर को लेकर अमित शाह ने की बैठक, मौजूदा हालात और विकास कार्यों को लेकर हुई चर्चा

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद से केंद्र सरकार लगातार कई योजनाओं को यहां तक पहुंचाने की कोशिश कर रही है. हालांकि दूसरी तरफ आतंकी घटनाएं लगातार जारी हैं. इसी बीच इस केंद्र शासित प्रदेश में विकास कार्यों को लेकर गृह मंत्रालय ने एक बैठक बुलाई. जिसमें गृहमंत्री अमित शाह समेत तमाम आला अधिकारी शामिल हुए.

अखिलेश यादव ने सपा प्रत्याशी के लिए मांगे वोट : कहा- बीजेपी की हार तय, ‘कमल’ के बूथों पर नाचेंगे भूत

बैठक में जम्मू-कश्मीर में विकास कार्यों को लेकर चर्चा

बताया गया कि, दिल्ली में बुलाई गई इस बैठक में जम्मू-कश्मीर में विकास कार्यों को लेकर चर्चा हुई. इस बैठक में गृह मंत्रालय के आला अधिकारी, जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल, चीफ सेक्रेट्री, चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ और नेशनल सिक्योरिटी एडवाइजर शामिल हुए.  

आतंकी लगातार कर रहे हैं हमले

बता दें कि, भले ही केंद्र सरकार की तरफ से कश्मीर में विकास की बात की जा रही हो, लेकिन यहां आतंकी घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं. आए दिन जम्मू-कश्मीर में गोलीबारी की खबरें सामने आती हैं.

मंत्री डॉ. महेंद्र सिंह और भाजपा राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रेम शुक्ला की प्रेसवार्ता, कहा- मफियाराज का हुआ खत्मा

पुलिसकर्मियों को निशाना बनाकर किया ग्रेनेड हमला

आज यानी 18 फरवरी को श्रीनगर के ख्वाजा बाजार इलाके में आतंकवादियों ने पुलिसकर्मियों को निशाना बनाकर ग्रेनेड हमला किया, जिसमें एक पुलिसकर्मी घायल हो गया. अधिकारियों के मुताबिक, नौहट्टा इलाके के ख्वाजा बाजार में तैनात पुलिसकर्मियों पर आतंकवादियों ने ग्रेनेड से हमला किया. इसके बाद आतंकियों की तलाश की जा रही है.

पहले भी आतंकवादियों ने किए हमले

इससे पहले गुरुवार 17 फरवरी को भी आतंकियों ने सीआरपीएफ के एक वाहन पर हमला किया था. जम्मू कश्मीर के शोपियां जिले में आतंकवादियों ने केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के एक वाहन पर ग्रेनेड फेंका, लेकिन इसमें कोई जवान घायल नहीं हुआ.

सीएम चन्नी के विवादित बयान को लेकर बिहार में सियासत गर्म : पटना के थाने में FIR दर्ज, भाजपा ने की गिरफ्तारी की मांग

अधिकारियों ने बताया कि, आतंकवादियों ने शाम करीब साढ़े सात बजे शोपियां के कीगाम में वाहन पर ग्रेनेड फेंका. अधिकारियों ने कहा कि इस घटना में वाहन को मामूली नुकसान हुआ, लेकिन कोई हताहत नहीं हुआ.

Check Also

सुप्रीम कोर्ट: जीवन और निजी आजादी के अधिकार के हनन पर सख्ती से निपटने की जरूरत

सुप्रीम कोर्ट ने अभियुक्त को अपनी गिरफ्तारी का आधार जानने को मौलिक और वैधानिक अधिकार …