Friday , June 14 2024

कोरोना के मामलों में कमी के बाद Haryana सरकार का बड़ा फैसला : आज से सभी कर्मचारियों को दफ्तर बुलाया

नई दिल्ली। देश में हर दिन कोरोना के मामले में कमी आ रही है. इसके साथ ही हरियाणा में भी कोरोना संक्रमण कम होने लगा है. जिसके बाद हरियाणा सरकार ने कोविड गाइडलाइन में बदलाव करना शुरू कर दिया है.

Hijab Controversy पर बोलीं प्रियंका गांधी- महिलाओं को अपनी मर्जी के कपड़े पहनने का हक

इस क्रम में सरकार द्वारा मंगलवार को एक नोटिस निकाला गया. नोटिस के अनुसार नौ फरवरी से राज्य में सरकारी कर्मचारियों या आफिसर को रोज कार्यालय आना होगा.

राज्य में पाजिटिविटी रेट भी कम

हरियाणा सरकार द्वारा जारी नोटिफिकेशन में कहा गया है कि राज्य में कोविड के मरीजों की संख्या में कमी आने लगी है. इसके अलावा राज्य में पाजिटिविटी रेट भी कम हो गई है. जिसके बाद सरकार ने किसी भी कार्यालय, विभाग, बोर्ड और कार्पोरेशन को खोलने का निर्णय लिया है. इसमें काम करने वाले सभी कार्मचारियों और आफिसर को रोज आना होगा.

UP Election: जानिए पहले चरण की पोलिंग से पहले मोदी, योगी, अखिलेश, प्रियंका, मायावती ने कितनी रैलियां की

नोटिस में कहा गया है कि, बिना किसी छूट के नौ फरवरी से हर दिन कार्यालय आना अनिवार्य होगा. हालांकि इस दौरान हर विभाग के हेड को कोविड गाइडलाइन का पालन कराना सुनिश्चित करना होगा. इस दौरान सभी कर्माचारी कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए मास्क लगाएंगे.

कोरोना के नए मामलों में कमी

बता दें कि, पिछले कई दिनों से हरियाणा में कोरोना के नए मामलों में बड़ी कमी आई है. सोमवार को राज्य में 1,231 कोरोना के नए मामले सामने आए हैं. वहीं इस दौरान राज्यभर में कोरोना से 21 लोगों की मौत हुई है.

हर घर के एक व्यक्ति को मिलेगी सरकारी नौकरी और व्यवसाय के लिए 5 लाख रुपए: शिवपाल सिंह यादव

अब राज्य में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 9,66,094 हो गया है. वहीं पूरे कोरोना काल के दौरान राज्य में 10,416 मरीजों की मौत हो चुकी है. गुरूग्राम में भी सोमवार को 478 नए कोरोना के मामले सामने आए हैं. जबकि राज्य के यमुनानगर में 126 और फरिदाबाद में 114 नए कोरोना के मामले सामने आए हैं.

Check Also

लेफ्टिनेंट जनरल उपेंद्र द्विवेदी होंगे अगले सेना प्रमुख

सरकार ने लेफ्टिनेंट जनरल उपेंद्र द्विवेदी को अगला सेना प्रमुख नियुक्त किया है। वह मौजूदा …