Sunday , June 23 2024

गांधी जयंती: राजघाट पहुंचकर पीएम मोदी ने बापू को दी श्रद्धांजलि

नई दिल्ली. भारत के इतिहास में दो अक्टूबर के दिन का एक खास महत्व है. भारत आज राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी की 152वीं जयंती मना रहा है. इस खास अवसर पर राजघाट पर गांधी समाधि में सर्व-धर्म प्रार्थना का आयोजन किया गया है. जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी, लोकसभा अध्‍यक्ष ओम बिरला, दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राजघाट पहुंचकर राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी को श्रद्धांजलि दी.

वहीं राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गांधी जयंती की पूर्व संध्या पर देशवासियों को शुभकामनाएं दीं और उनसे भारत को महात्मा गांधी के सपनों का देश बनाने का संकल्प लेने को कहा. उन्‍होंने कहा, गांधी जयंती सभी भारतीयों के लिए विशेष दिन है. यह अवसर पर हम सभी के लिए गांधीजी के संघर्ष और बलिदान को याद करने का मौका है. यह अवसर हमें हमारे देश की समृद्धि और विकास के लिए काम करने की प्रेरणा देता है.

मोदी ने बापू को दी श्रद्धांजलि

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस खास मौके पर कहा, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को उनकी जन्म-जयंती पर विनम्र श्रद्धांजलि. पूज्य बापू का जीवन और आदर्श देश की हर पीढ़ी को कर्तव्य पथ पर चलने के लिए प्रेरित करता रहेगा.

शास्त्री जी का जीवन देशवासियों के लिए प्रेरणास्रोत- पीएम

एक अन्य ट्वीट में लाल बहादुर शास्त्री को नमन करते हुए पीएम मोदी ने कहा, ‘’पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री जी को उनकी जयंती पर शत-शत नमन. मूल्यों और सिद्धांतों पर आधारित उनका जीवन देशवासियों के लिए हमेशा प्रेरणास्रोत बना रहेगा.’’

योगी आदित्‍यनाथ ने बापू को किया नमन

योगी आदित्‍यनाथ ने कहा, भारतीय स्वाधीनता आंदोलन के महानायक, विश्व को अहिंसा का मार्ग दिखाने वाले महामानव, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी को उनकी जयंती पर कोटिशः नमन. सत्य, अहिंसा एवं प्रेम का संदेश देता ‘बापू’ का जीवन समरस समाज की स्थापना का मार्ग प्रशस्त करता है.

अनुराग ठाकुर ने इस खास मौके पर ट्वीट करते हुए कहा सत्य, साधना, सद्भाव और स्वच्छता के उपासक राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जन्मजयंती पर विनम्र श्र्द्धांजलि. गांधी जी के विचारों और मूल्यों को आत्मसात् करते हुए स्वच्छता को आचरण बनाकर हम उनके सपनों का भारत बना सकते हैं.

Check Also

पंजाब: कनाडा में विद्यार्थी अब 40 नहीं 20 घंटे प्रति सप्ताह ही कर पाएंगे काम

कनाडा गए छात्र अब फुल टाइम वर्क नहीं कर पाएंगे। कोरोना के कारण प्रति सप्ताह …