Friday , June 21 2024

कारोबारी मनीष की पत्नी को मिलेगी सरकारी नौकरी, मीनाक्षी बोलीं- हमें भरोसा.. न्याय दिलाएंगे योगी जी

कानपुर। प्रापर्टी डीलर मनीष गुप्ता की पत्नी मीनाक्षी गुप्ता को कानपुर विकास प्राधिकरण में ओएसडी पद पर सरकारी नौकरी दी जाएगी।

मैं मुख्यमंत्री जी से मिलकर पूरी तरह संतुष्ट हूं- मीनाक्षी

कानपुर पुलिस लाइन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात के बाद मीनाक्षी ने कहा, मैं मुख्यमंत्री जी से मिलकर पूरी तरह संतुष्ट हूं। उन्होंने पूरी मांगे मान ली हैं।

आज का पंचांग और राशिफल : ये राशि वाले रहे सावधान, वरना होगी परेशानी, जानें अपना राशिफल ?

केस ट्रांसफर करने पर सहमति जताई है

मुआवजा, नौकरी और कानपुर केस ट्रांसफर करने पर सहमति जताई है। CBI जांच को लेकर बोला कि, उनको कोई आपत्ति नहीं, संतुति करेंगे।

दोषी कोई भी हो बख्शा नहीं जाएगा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि, दो दिन पहले गोरखपुर में एक दुखद घटना घटी थी। मैंने उसी दिन गोरखपुर पुलिस को कहा था कि तत्काल मुकदमा दर्ज़ होना चाहिए और दोषी कोई भी हो बख्शा नहीं जाएगा। अपराधी, अपराधी होता है।

सबकी जवाबदेही भी तय करेंगे

मैंने कल सुबह ही यहां के ज़िला प्रशासन को कहा था कि मैं पीड़ित परिवार से मिलना चाहूंग क्योंकि दुखद घटना घटी है उसकी पीड़ा के साथ जुड़ना हमारा दायित्व है। दोषी बख्शा नहीं जाएगा, सबकी जवाबदेही भी तय करेंगे।

UP : कारोबारी की हत्या को लेकर एक्शन में योगी, कहा- दोषी पुलिसवाले होंगे बर्खास्त , दिए सख्त निर्देश

अपराध और अपराधियों को बर्दाश्त न करने की सरकार की नीति किसी से छुपी नहीं है। सरकार ने जो कहा वो करके दिखाया है। कानपुर तो इसका जीता जागता उदाहरण है।

मीनाक्षी को भरोसा, योगी दिलाएंगे न्याय

मीनाक्षी ने कहा है कि, उन्हें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के न्याय पर पूरा भरोसा है। मुख्यमंत्री से मिलने के बाद मीनाक्षी ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उनकी बात को गंभीरता से सुना और कहा कि दोषियों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जायेगा।

उन्होंने इस मामले को गोरखपुर से कानपुर ट्रांसफर करने का भी आश्वासन दिया ताकि हम लोगों को कोई असुविधा न हो।

कानपुर : मृतक कारोबारी मनीष गुप्ता के परिजनों से मिले अखिलेश यादव, योगी सरकार पर बोला हमला, की ये मांग

मृतक कारोबारी की पत्नी ने कहा कि, योगी जी ने मुझे नौकरी दिलाने का भरोसा दिया है और वहां मौजूद अधिकारियों को इस संबंध में तत्काल निर्देश भी दिये हैं। मुझे और मेरा परिवार योगी जी के प्रति कृतज्ञ है और भरोसा है कि मुझे और मेरे बच्चे को न्याय मिलेगा।

चेकिंग के दौरान ID नहीं दिखा पाए थे मनीष, भागते समय गिरे- ADG L&O

उत्तर प्रदेश में कानपुर के कारोबारी मनीष गुप्ता की गोरखपुर में मौत के मामले में प्रदेश के अपर पुलिस महानिदेशक, कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार का बयान सामने आया है.

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने की बैठक, आर्थिक अपराध करने वाले भगोड़े अपराधियों पर कसेगा शिकंजा

एडीजी ने कहा है कि, उस रात एसएसपी, गोरखपुर के आदेश पर होटलों में चेकिंग हो रही थी. चेकिंग के दौरान मनीष गुप्ता आईडी नहीं दिखा पाए थे. पुलिस से बचने के लिए मनीष भागते समय गिर गए थे. इलाज के दौरान मनीष की मौत हो गई.

Check Also

कानपुर: मदरसे में छात्रा से मौलाना ने किया था कुकृत्य

पीड़िता ने कोर्ट में बयान में कहा था कि जावेद पहले भी कई लड़कियों को …