Sunday , June 23 2024

UP: चुनाव से पहले यूपी सरकार ने खोला पिटारा, कहा- किसानों पर दर्ज मुकदमे लिए जाएंगे वापस

लखनऊ। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की योगी सरकार जल्द ही गन्ना मूल्य (Sugarcane Price) बढ़ाएगी. इतना ही नहीं बिजली बिल (Electricity Bill) बकाया होने पर किसी किसान (Farmer) का कनेक्शन नहीं काटा जाएगा.

UP: डीजीपी का आदेश, हर थानों में तीन से चार महिला बीट बनेगी

किसानों के लिए पिटारा खोलेगी सरकार

विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election) से पहले योगी सरकार ने किसानों के लिए पिटारा खोलने का फैसला लिया है. सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने आज अपने आवास पर प्रदेश भर से आए किसानों साथ संवाद किया.

सीएम ने किए कई ऐलान

इस कार्यक्रम में करीब 54 जिलों के 154 किसान शामिल हुए. इसमे मुख्यमंत्री ने किसानों से उनकी समस्या जान कई एलान किए.

किसानों पर दर्ज मुकदमे वापस लिए जाएंगे

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि गन्ना मूल्य में जल्द बढ़ोतरी होगी. बैठक में शामिल भाजपा किसान मोर्चा के अध्यक्ष कामेश्वर सिंह ने बताया कि, 15 दिन के अंदर गन्ना मूल्य बढ़ाया जाएगा.

UP:आगरा में जहरीली शराब से अब तक 10 लोगों की मौत, कई अधिकारी निलंबित

इसके अलावा मुख्यमंत्री ने ये भी एलान किया कि, फसल अवशेष जलाने के कारण किसानों पर दर्ज मुकदमे वापस लिए जाएंगे.

इतना ही नहीं उन पर जो जुर्माना लगाया गया है वो भी खत्म होगा. किसानों को कृषि अवशेष ना जलाने के लिए जागरूक किया जाएगा.

बिजली नहीं काटी जाएगी

सीएम योगी ने कहा कि किसी किसान के ट्यूबवेल की बिजली बकाए के चलते नहीं काटी जाएगी. किसानों के पुराने बिजली बिल बकाए पर ब्याज देय ना हो, इसलिए ओटीएस स्कीम लाई जाएगी.

UP: ‘जनवादी क्रांति यात्रा’ का जोरदार स्वागत, 11 जिलों से होकर अयोध्या में समाप्त होगी यात्रा

बैठक में किसानों ने बकाए का मुद्दा भी उठाया. गन्ना मंत्री सुरेश राणा ने बताया की मुख्यमंत्री ने कहा है कि, गन्ना पेराई के नए सत्र से पहले पिछला सारा भुगतान करा दिया जाएगा. अब तक 82 फीसदी भुगतान हो चुका है.

सीएम ने साझा किए आंकड़े

किसानों के साथ आकंड़े साझा करते हुए मुख्यमंत्री ने बताया कि, वर्ष 2007 से 2016 तक मात्र 95 हजार करोड़ गन्ना मूल्य का मूल्य भुगतान हुआ था.

2010 के बाद से 96 माह तक सब बकाया था. बीते साढ़े चार सालों में 1.40 हजार करोड़ का भुगतान कराया गया है. आज न केवल मात्र 4 माह का बकाया है।

UP: भाजपा की कुनीतियों के खिलाफ सपा ने निकाली महानदल की आक्रोश यात्रा

बल्कि वर्तमान सीजन के 82 फीसदी मूल्य का भुगतान कर दिया गया है. कोरोना काल में जबकि एक्सपोर्ट बन्द था, बावजूद इसके गन्ना खरीद जारी रही.

रिकॉर्ड गेहूं की खरीद हुई

सीएम योगी ने कहा कि, 2016-17 में जहां 6 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीदा गया था, वहीं इस साल कोरोना के बावजूद 56 लाख मीट्रिक टन रिकॉर्ड गेहूं की खरीद हुई है.

2016 में हुई 16 लाख एमटी धान खरीद के सापेक्ष में हमने बीते सत्र में 66 लाख एमटी धान खरीद की है.

UP: BJP की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ हल्लाबोल, 7 चरणों में निकेलगी ‘किसान नौजवान पटेल यात्रा’

बंद चीनी मिलों को लेकर सीएम ने कहा कि, पश्चिम क्षेत्र की चीनी मिलें 20 अक्टूबर और मध्य क्षेत्र की मिलें 25 अक्टूबर से शुरू होंगी. वहीं, पूर्व क्षेत्र की चीनी मिलों का संचालन नवंबर के पहले हफ्ते से शुरू हो जाएगा.

Check Also

वाराणसी: सपा मुक्त हुई नगर निगम की कार्यकारिणी

वाराणसी नगर निगम की कार्यकारिणी से छह सदस्यों को बाहर किया गया है। इनमें लॉटरी …