Monday , May 27 2024

होर्डिंग दुर्घटना में मलबे के नीचे मिले 2 अन्य शव, 40 घंटे बाद भी बचाव अभियान जारी

मुंबई के घाटकोपर में होर्डिंग गिरने वाली जगह पर बुधवार को लगातार तीसरे दिन भी खोज और बचाव अभियान जारी रहा। आज मलबे के नीचे दो और शव पाए गए हैं। अधिकारियों ने बताया कि शव मंगलवार रात घाटकोपर में होर्डिंग दुर्घटनास्थल पर देखे गए थे, लेकिन अभी तक बाहर नहीं निकाले गए हैं।

16 की मौत, 75 घायल
सोमवार शाम को धूल भरी आंधी और बेमौसम बारिश के बीच सरकारी रेलवे पुलिस (जीआरपी) के कब्जे वाली जमीन पर लगा अवैध होर्डिंग छेदा नगर इलाके में एक पेट्रोल पंप पर दुर्घटनाग्रस्त हो गया था।अधिकारियों के अनुसार, बचाव टीमों ने पहले ढहे हुए होर्डिंग के नीचे से 89 लोगों को निकाला है, जिनमें से 16 को की मौत हो गई है, जबकि अन्य 75 घायल हो गए है।

फंसे दो शवों को बाहर निकालने में आ रही परेशानी
राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के सहायक कमांडेंट निखिल मुधोलकर ने बुधवार को PTI को बताया कि, ‘हमने (ढह गए होर्डिंग के) तीसरे गार्डर के नीचे फंसे दो शवों को देखा है, लेकिन हमें घटनास्थल तक पहुंचने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। वहां तक पहुंचने के लिए रेंगकर जाना पड़ता है।’

कितने लोग अभी भी फंसे हुए हैं?
अधिकारियों ने कहा कि ‘हमने पहले गर्डर को रात भर काटने के बाद हटा दिया है और अब अर्थमूवर्स और उत्खननकर्ताओं की मदद से मलबा हटा रहे हैं। एनडीआरएफ कर्मी अब दूसरे गर्डर को काटेंगे। दुर्घटना स्थल पर ऐसे पांच से अधिक गर्डर हैं। गार्डर हटाने के बाद पता चलेगा कि कितने लोग अभी भी फंसे हुए हैं।

एनडीआरएफ के एक अधिकारी ने बताया कि बुधवार सुबह खोज एवं बचाव अभियान के दौरान घटना स्थल पर छोटी सी आग लग गई, लेकिन वहां तैनात दमकल गाड़ियों ने इसे तुरंत बुझा दिया। अधिकारियों ने कहा कि घटना के 40 घंटे से अधिक समय बाद भी खोज और बचाव अभियान जारी रहा।

Check Also

बिहार: छपरा गोलीकांड के बाद अब एसपी गौरव मंगला का तबादला

छपरा पहले नगर थानेदार को निलंबित किया गया। इसके बाद पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के …