Wednesday , June 19 2024

राजस्थान: मौसम विभाग ने इन तीन जिलों में जारी किया अलर्ट, शीतलहर जारी रहने की दी चेतावनी

राजस्थान में बर्फीली हवाओं से शीतलहर का आगाज हो गया है। सर्दी के तेवर तीखे हो गए है। मौसम विभाग ने तीन जिलों में अलर्ट जारी किया है। प्रदेश के भीलवाड़ा, सीकर औऱ कोटा में शीतलहर चलने से न्यूनतम तापमान में गिरावट आई है। मौसम विभाग केंद्र जयपुर ने रविवार तक शीतलहर जारी रहने की चेतावनी दी है। प्रदेश के 18 स्थानों में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री से नीचे दर्ज किया गया है। सबसे कम न्यूनतम तापमान माउंट आबू में 2 डिग्री  दर्ज किया गया है, जो की इस सीजन का सबसे कम तापमान है।
फसलों और पेड़-पौधों पर ओस जमने लगी मौसम विभाग के अनुसार सीकर जिले के फतेहपुर में 3.7 डिग्री दर्ज किया गया। लगातार गिरावट से फसलों और पेड़-पौधों पर ओस जमने लगी है। बता दे इस बार शेखावाटी के सीकर, चूरू और झुंझनूं जिले में सर्दी ज्यादा पड़ने के आसार बताए जा रहे हैं। वैसे भी शेखावाटी में प्रदेश के अन्य जिलों की तुलना में सर्दी अधिक पड़ती है। इस बार सीकर,चूरू और झुंझुनूं जिले में सर्द रातें रहेंगी। मौसम विभाग केंद्र जयपुर के अधिकारियों के अनुसार राजधानी जयपुर में भी पारे में लगातार गिरावट आ रही है। साफ रहने से गिरेगा पारा मौसम विभाग के अनुसार आगामी दिनों में भी प्रदेश में मौसम शुष्क रहने के ही आसार है। ऐसे में उतरी- पश्चिमी हवाएं ही चलती रहने से तापमान में गिरावट का दौर आगे भी जारी रहेगा, जो उतार- चढ़ाव के बीच जल्द ही जमाव बिंदू तक भी पहुंच सकता है। जिससे सर्दी का असर आगामी दिनों में और बढ़ सकता है। शेखावाटी में कोहरे के साथ ओस का असर आज भी जारी रहा। फसलों पर ओस बूंदे नजर आई तो कई बाहरी इलाकों में सुबह- सुबह कोहरा नजर आया। जिससे दृश्यता में भी कमी रहने से वाहन चालकों को भी परेशानी उठानी पड़ी। वहीं, नमी से ठंड का असर भी बढ़ा रहा। जिससे बचने के लिए लोग अलाव जलाते दिखे। जहां पशु भी सर्दी से बचने की जुगत में बैठे नजर आए।  

Check Also

30 जून से शुरू होगा ‘मन की बात’ कार्यक्रम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोकसभा चुनाव के बाद पहली बार 30 जून को रेडियो पर मन …