Saturday , April 20 2024

आज घोषित होगा अंधेरी ईस्ट उपचुनाव के परिणाम, पढ़े पूरी ख़बर

महाराष्ट्र की अंधेरी ईस्ट विधानसभा पर हुए उपचुनाव के परिणाम आज घोषित किए जाने हैं। भाजपा के इस सीट पर अपनी उम्मीदवारी वापस लेने के बाद मुकाबला लगभग एकतरफा है। माना जा रहा है कि उद्धव ठाकरे गुट इस उपचुनाव में आसानी से जीत हासिल करेगा। इस सीट पर हालांकि उद्धव गुट के प्रत्याशी रुतुजा के अलावा 6 अन्य उम्मीदवार हैं। साल 2019 में भी उद्धव पार्टी की शिवसेना ने ही यहां से चुनाव जीता था। एकनाथ शिंदे की बगावत के बाद यह पहला मौका है जब महाराष्ट्र में चुनाव हुए। उद्धव गुट के लिए यह जीत आसान तो होगी, साथ ही आगे की चुनौतियों के लिए एक बूस्ट का काम भी करेगी। साल 2019 में शिवसेना प्रत्याशी रमेश लटके ने इस सीट पर जीत हासिल की थी। उनकी मौत के बाद खाली हुई सीट के लिए उपचुनाव हुए हैं। बीते 3 नवंबर को अंधेरी ईस्ट के अलावा कुल सात सीटों पर उपचुनाव हुए। अंधेरी ईस्ट पर शिवसेना ने रमेश लटके की पत्नी रुतुजा को मैदान में उतारा है। उनके खिलाफ चुनाव लड़ने जा रही भाजपा प्रत्याशी पहले ही अपना नाम वापस ले चुके हैं। शिवसेना के उद्धव ठाकरे गुट के उम्मीदवार रुतुजा रमेश लटके को छोड़कर कोई अन्य प्रमुख राजनीतिक दल दौड़ में शामिल नहीं हुआ है। इस सीट पर 2019 का चुनाव शिवसेना ने 16965 मतों के अंतर से जीता था। शिवसेना के रमेश लटके ने 2019 में सीट जीतने के लिए एक निर्दलीय मुर्जी पटेल (काका) को हराया था। शिंदे की बगावत के बाद पहला चुनाव एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाले शिवसेना विधायकों के विद्रोह के बाद जून में उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महा विकास अघाड़ी सरकार गिरने के बाद महाराष्ट्र में यह पहला चुनाव है। शिंदे बाद में भाजपा के साथ गठबंधन में मुख्यमंत्री बने हैं। उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली शिवसेना की उम्मीदवार रुतुजा लटके के भाजपा द्वारा अपना उम्मीदवार वापस लेने के बाद उपचुनाव में आराम से जीतने की उम्मीद है। मैदान में कुल सात उम्मीदवार थे और लटके को छोड़कर सभी निर्दलीय हैं। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) और कांग्रेस, दोनों एमवीए के घटक, ने लटके की उम्मीदवारी को अपना समर्थन किया है

Check Also

लखनऊ: शुक्रवार को गर्मी ने बनाया रिकॉर्ड, पारा 41 के पार

2024 में 19 अप्रैल सीजन का सबसे अधिक गर्म दिन रहा। लखनऊ का अधिकतम तापमान …