Sunday , April 21 2024

इन शेहरों में अब नहीं चलेंगे डीजल और पेट्रोल के विक्रम-ऑटो, जानें वजह

पर्यावरण प्रदूषण को कम करने के लिए एनजीटी ने देहरादून, ऋषिकेश, हरिद्वार में डीजल पेट्रोल की जगह सीएनजी, एलपीजी वाले ऑटो विक्रम चलवाने के आदेश दिए हैं। मंगलवार को प्रस्तावित संभागीय परिवहन प्राधिकरण की बैठक में यह प्रस्ताव लाया जा रहा है। जिसे मंजूरी मिलने के बाद आगे की प्रक्रिया लागू होगी। इसके अलावा बैठक में शहर के कुछ नए रूटों पर सिटी के परमिट दिए जाएंगे। इसके साथ ही कुछ रूटों का विस्तार किया जाएगा। आरटीओ सुनील शर्मा ने बताया कि एजेंडे में शामिल सभी बिंदुओं पर बैठक में विचार किया जाएगा। अंतिम फैसला होने के बाद इन्हें लागू किया जाएगा। उन्होंने बताया कि बैठक में जितने भी प्रस्ताव आए हैं उन पर विस्तार से चर्चा के बाद निर्णय लिया जाएगा।टैक्स चोरी को लेकर उठाए सवाल सिटी बस महासंघ के अध्यक्ष विजय वर्धन डंडरियाल ने दावा किया है कि देहरादून से डाकपत्थर, विकासनगर,देहरादून से कालसी,देहरादून से कुल्हाल जाने वाली स्टेज कैरिज बसें पूर्व से ही आरटीओ देहरादून के साथ मिलीभगत कर कोविड काल को छोड़कर हर साल 50 लाख से 55 लाख तक की रोड टैक्स चोरी कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि आरटीआई में यह खुलासा हुआ है। मंगलवार को आयोजित होने जा रही बैठक में भी इस बिंदु पर चर्चा होगी। बैठक में इन प्रस्तावों पर होगा विचार -झाझरा सुद्धोवाला प्रेमनगर से बल्लुपुर घंटाघर, परेड ग्राउंड, सर्वे चौक लाडपुर रायुपर तक नगर सेवा का नया मार्ग बनाकर परमिट जारी करने पर विचार। -देहरादून रायपुर मालदेवता एवं संबंधित मार्ग पर हल्की चार पहिया वाहनों को स्थाई सवारी गाड़ी परमिट बढ़ाने पर विचार। -सिटी बसों में वरिष्ठ नागरिकों के लिए सीटें आरक्षित करने पर विचार।

Check Also

उत्तराखंड: नैनीताल सीट पर 15 साल में सबसे कम मतदान

नैनीताल सीट पर 61.75 प्रतिशत मतदान हुआ। वर्ष-2019 लोकसभा चुनाव से तुलना करें तो इस …