Sunday , April 21 2024

इस वजह से उड़ी बहराइच के स्वास्थ्य विभाग की नींद

बहराइच के शहनवाजपुर गांव में डेंगू से चार लोगों की मौत ने स्वास्थ्य विभाग की नींद उड़ा दी थी। सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो का संज्ञान लेकर सीएमओ ने विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम बनाकर जांच कराई। इसमें दो की किड़नी फेल होने व आयरन की ओवर डोज से लीवर डैमेज से मौत की पुष्टि टीम ने की है। जांच रिपोर्ट आने के बाद उच्चाधिकारियों ने राहत की सांस ली है। चित्तौरा ब्लॉक में ग्राम शहनवाजपुर में एक ही दिन डेंगू पीड़ित चार लोगों की मौत होने की खबर सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही थी। इसकी भनक सीएमओ को लगी। उन्होंने डॉ. निर्मेश कुमार के नेतृत्व में टीम गठित की। टीम गांव पहुंचकर मृतक के परिजनों से मिली। मृतक के इलाज से जुड़े अभिलेख देखे। डॉ. निर्मेष ने बताया कि दो लोगों की किड़नी काफी दिनों से खराब थी। इनका इलाज लखनऊ राम मनोहर लोहिया अस्पताल में चल रहा था। सभी की डेंगू जांच भी कराई गई थी, लेकिन पुष्टि नहीं हुई थी। जीतेंद्र कुमार नामक मृतक लीवर की बीमारी से पीड़ित रहा। कुछ माह पहले डेंगू की पुष्टि हुई थी, लेकिन वर्तमान में जांच रिपोर्ट में आयरन के ओवरडोज से लीवर खराब होने से मौत हुई है। उन्होंने कहा कि जिन चार लोगों के डेंगू से मौत की खबर प्रसारित की गई, जांच में पुष्टि नहीं हुई है। रिपोर्ट उच्चाधिकारियों को भेज दी गई है। शहनवाजपुर में टीम ने जांच कर रिपोर्ट प्रस्तुत कर दी है। एक भी मौत डेंगू से नहीं हुई है। सभी किड़नी व लीवर की गंभीर बीमारी से पीड़ित रहे। डॉ. एसके सिंह, सीएमओ, बहराइच

Check Also

उत्तराखंड: नैनीताल सीट पर 15 साल में सबसे कम मतदान

नैनीताल सीट पर 61.75 प्रतिशत मतदान हुआ। वर्ष-2019 लोकसभा चुनाव से तुलना करें तो इस …