Friday , December 2 2022

छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले से सामने आई एक दुखद घटना, दीवार ढहने से एक ही परिवार के 3 बच्चों की मौत

छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले में एक हृदय विदारक घटना सामने आई है। घर की कच्ची दीवार ढहने से 3 बच्चों की मौत हो गई। मलबे के अंदर 3 भाई दब गए, जबकि चौथे भाई ने घटना के बाद अपनी मां को खेत से बुलाकर लाया। तीन छोटे बच्चों की मौत से पूरा गांव शोक में डूब गया। घटना की सूचना पर पुलिस टीम मौके पर पहुंची। स्थानीय ग्रामीणों की मदद से तत्काल मलबा में दबे बच्चों को बाहर निकाला गया, लेकिन तब तक तीनों बच्चों की मौत हो चुकी थी। तीनों बच्चों के शवों को पाली सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा गया। थाना प्रभारी राजीव श्रीवास्तव ने बताया कि हादसा पाली थाना क्षेत्र के राहा-सपलवा गांव में हुआ है। राहा-सपलवा निवासी बसंत यादव के 4 बेटे हैं, जिसमें से 3 बेटे रूपेश यादव (4 वर्ष), रितेश यादव (6 वर्ष) और रुकेश यादव (8 वर्ष) की मौत हुई है। सोमवार की दोपहर हल्की बारिश हो रही थी। बसंत यादव के घर में एक पुराना मिट्टी का बाउंड्रीवाल था। बारिश बंद होने के बाद चारों बच्चे दीवार के पास खेल रहे थे, तभी शाम को एकाएक दीवार भरभराकर ढह गया। इस घटना में 3 बच्चे बाउंड्रीवाल के मलबे के नीचे दब गए, जबकि एक बच्चा दूर होने की वजह से बाल-बाल बच गया। खेत में काम कर रहे माता-पिता को एक बच्चे ने बुलाया घटना के दौरान बसंत यादव और उसकी पत्नी घर पर नहीं थे। घटना के दौरान एक बच्चा बाल-बाल बच गया। बच्चे को कुछ समझ नहीं आया और वह भागते हुए खेत की गया। उन्होंने अपने माता-पिता को घटना की जानकारी दी, जिसके बाद बसंत और उसकी पत्नी भागते हुए घर आए। ग्रामीणों की मदद से मलबा को हटाया गया, लेकिन मिट्टी के दीवार में दबने से तीनों बच्चों की मौत हो गई। एक ही घर के तीन भाइयों की मौत से घरवालों के बीच चीख पुकार मच गई। गांव में मातम पसर गया। घटना की जानकारी पाली थाना को दी गई। पुलिस मामले की जांच कर रही है।  

Check Also

3 महीने तक रद्द हुई ये 12 ट्रेनें, जानें वजह

कोहरे के कारण दिल्ली उत्तर भारत जाने वाली कुछ ट्रेनों को रद्द और कुछ के …