Friday , May 24 2024

यूक्रेन में हमले का 10वां दिन आज : रूस बमबारी के साथ अब तक कई शहरों पर कर चुका है कब्जा

नई दिल्ली। रूस-यूक्रेन के बीच चल रहे युद्ध का आज 10वां दिन है. रूस लगातार पूर्वी यूक्रेन के कई शहरों में बमबारी कर रहा है साथ ही अब तक कई शहरों पर कब्जा कर चुका है.

जौनपुर में एनकाउंटर : शातिर अपराधी सतीश सिंह ढेर, एके-47 राइफल, पिस्टल और कारतूस बरामद

वहीं, यूक्रेन भी रूस के सामने हार मानने को तैयार नहीं है. यूक्रेनी सेना ने आज कमबैक करते हुए रूसी सेना पर पलटवार किया है जिसका दावा खुद यूक्रेन ने किया है.

जंग की बड़ी बातें ?

1- अमेरिकी अधिकारी से मिली जानकारी के मुताबिक आज यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोडिमिर जेलेंस्की शनिवार सुबह (अमेरिकी समय के अनुसार) जूम के जरिये अमेरिकी सीनेट को संबोधित करेंगे. इस युद्ध में रूस की गंभीर बमबारी से यहां के हालात बेहद संवेदनशील हो गये हैं. यही वजह है कि कई अमेरिकी सांसद बाइडेन से रूस के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग कर रहे हैं और उससे तेल आयात बंद करने को कह रहे हैं.

2- राष्ट्रपति जेलेंस्की की यूक्रेन को नो-फ्लाई जोन घोषित करने की अपील को नाटो ने खारिज कर दिया है. जेलेंस्की ने नाटो के इस फैसले की निंदा करते हुए कहा कि “हम जानते हैं कि रूस अभी नए हमले करेगा जिसमें कई लोगों की जान जाएगी. इसके बावजूद नाटो ने यूक्रेन के ऊपर उड़ानों को बंद नहीं करने का फैसला लिया जिसकी मैं निंदा करता हूं.”

काशी विश्वनाथ, काल भैरव मंदिर और महामृत्युंजय महादेव के अखिलेश यादव ने किए दर्शन

3- रूस को दुनिया से अलग-थलग करने की पूरी कोशिशें की जा रही हैं. जंग के बीच अमेरिका की उप राष्ट्रपति कमला हैरिस यूक्रेन और अमेरिकी सहयोगियों के समर्थन में अगले हफ्ते पोलैंड और रोमानिया के दौरे पर जाएंगी.

4- संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की ओर से रूसी हमले से पैदा मानवीय संकट को लेकर इमरजेंसी बैठक बुलाई गई है. न्यूज एजेंसी एएफपी के मुताबिक, राजनयिकों ने शुक्रवार को कहा कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद यूक्रेन में रूसी आक्रमण की वजह से वहां पैदा मानवीय संकट पर सोमवार को एक आपात बैठक करेगी. बैठक में यूक्रेन में हमले को बंद कराने, मानवीय सहायता को लगातार जारी रखने और नागरिकों की सुरक्षा को लेकर चर्चा की जा सकती है. अमेरिका ने कहा है कि वो इस तरह के मसौदे का समर्थन नहीं करेगा जब तक कि इसमें स्पष्ट रूप से ये नहीं बताया जाता है कि यूक्रेन में रूस ने ही मानवीय संकट पैदा किया है.

5- रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने सेना पर ‘फर्जी खबर’ के लिए एक कानून पर हस्ताक्षर कर दिए हैं. इस कानून के तहत इस तरह के मामले में आरोपी को 15 साल तक की जेल हो सकती है. शुक्रवार को पहले सांसदों ने इस बिल को अपनाया, जिसमें सेना के बारे में “जानबूझकर गलत जानकारी” प्रकाशित करने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई और जुर्माने के प्रावधान हैं.

6- रूस यूक्रेन में मनोबल तोड़ने के लिए सरेआम फांसी की योजना बना रहा है. ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक लीक हुए दस्तावेज़ कथित तौर पर इस तरफ संकेत करते हैं कि रूस की फेडरल सेक्यूरिटी सर्विस ने लोगों का मनोबल तोड़ने के लिए यूक्रेन के शहरों में सरेआम फांसी देने की योजना तैयार की है.

यूक्रेन-रूस जंग की स्वतंत्र आयोग से जांच कराने वाली वोटिंग से भारत ने खुद को किया अलग

7- यूक्रेन ने रूस के उस दावे को खारिज कर दिया है, जिसमें कहा गया था कि राष्ट्रपति वोलोडिमिर ज़ेलेंस्की पोलैंड भाग गए हैं. यूक्रेन की संसद ने कहा कि राष्ट्रपति जेलेंस्की भागे नहीं हैं, वो राजधानी कीव में ही हैं. यूक्रेन बार-बार यह दावा कर रहा है कि रूस जेलेंस्की की जान लेने की कोशिश कर रहा है. यूक्रेन के राष्ट्रपति आवास के पास एक रॉकेट का टुकड़ा भी मिला है. इस पर तंज कसते हुए जेलेंस्की ने कहा कि निशाना चूक गया.

8- रूस-यूक्रेन की जंग पर अमेरिका ने बड़ा दावा करते हुए कहा है कि, रूस ने जंग के पहले हफ्ते 500 से ज्यादा मिसाइल दागी हैं. अमेरिका ने कहा कि अलग-अलग तरह की मीसाइलों से ये हमला किया गया है.

9- खारकीव और कीव में एक बार फिर धामके की आवाज़े सुनाई दे रही हैं. शहरों में अलार्म लगातार बज रहे हैं और लोगों को सेफ जगह पहुंचने के लिए कहा जा रहा है.

10- NEXTA की रिपोर्ट के मुताबिक, रूस में पुतिन ने फेसबुक, ट्विटर के बाद अब YouTube पर भी प्रतिबंध लगा दिया है.

महादेव की नगरी वाराणसी में पीएम मोदी का मेगा रोड शो, पटेल की मूर्ति को चढ़ाई माला

Check Also

23 मई का राशिफल

मेष  आज के  दिन की शुरुआत थोड़ा कमजोर रहेगी। आप अपने खर्च लायक धन कमाने …