Friday , June 14 2024

पूर्व सांसद सी. जंगा रेड्डी का निधन, प्रधानमंत्री मोदी ने जताया शोक

नई दिल्ली। 1984 में BJP की 2 लोकसभा सीटों में से 1 पर जीत दर्ज करने वाले नेता जंगा रेड्डी का निधन हो गया है. इन चुनावों में इंदिरा गांधी की हत्या के कारण उपजी सहानुभूति से कांग्रेस ने 514 में से 404 सीटें जीती थी. इसके बावजूद उन्होंने दिग्गज कांग्रेसी और पूर्व PM PV नरसिंहराव को हराया था.

हैदराबाद में हुआ निधन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता सी जंगा रेड्डी के निधन पर शोक जताया और कहा कि वह भाजपा को नई ऊंचाइयों पर ले जाने के प्रयासों के अभिन्न हिस्सा थे. रेड्डी 86 वर्ष के थे. उनका निधन शनिवार सुबह हैदराबाद में हुआ.

जब मुजफ्फरनगर दंगों की आग में जल रहा था तब तत्कालीन सीएम किसके साथ खड़े थे यह साफ है : स्वतंत्र देव सिंह

BJP के टिकट पर चुनाव जीतकर 1984 में संसद पहुंचे थे

रेड्डी उन दो सांसदों में थे, जो भाजपा के टिकट पर चुनाव जीतकर 1984 में संसद पहुंचे थे. जीत दर्ज करने वाले भाजपा के दूसरे सांसद ए के पटेल थे. उन्होंने गुजरात के मेहसाणा से जीत दर्ज की थी. इस चुनाव में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को भी हार का सामना करना पड़ा था.

पीएम मोदी ने जताया दुख

प्रधानमंत्री ने एक ट्वीट में कहा कि, सी जंगा रेड्डी ने अपना पूरा जीवन सार्वजनिक सेवा में खपा दिया. जनसंघ और भाजपा को सफलता को नई ऊंचाइयों पर लेने जाने के प्रयासों का वह अभिन्न हिस्सा थे.

ब्रज में होली पर्व की शुरुआत : पहले भगवान को लगाया गुलाल, फिर भक्तों को किया सराबोर

उन्होंने लोगों के दिलों-दिमाग में अपनी जगह बनाई. उन्होंने कई कार्यकर्ताओं को प्रेरित किया. उनके निधन से दुखी हूं. प्रधानमंत्री ने कहा कि जंगा रेड्डी भाजपा के विकास के बेहद नाजुक दौर में पार्टी की एक प्रभावी आवाज थे.

शुरू से ही रहे आरएसएस के कार्यकर्ता

जंगा रेड्डी शुरू से ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यकर्ता थे. 1967 में वो पहली बार जनसंघ के टिकट पर विधायक बने. इसके बाद 1978 में फिर जनता पार्टी के टिकट पर विधानसभा चुनाव लड़ा और जीता.

समाजवादी पार्टी के कैराना प्रत्याशी नाहिद हसन की जमानत अर्जी अदालत ने की खारिज

1983 में बीजेपी के गठन के बाद वो बीजेपी से राज्य के चुनावों में उतरे और फिर जीते. एक साल बाद ही बीजेपी ने उन्हें लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए कहा.

Check Also

भारतीय सेना ने लांन्च किया ‘विद्युत रक्षक’, जनरेटर के लिए एक तकनीकी इनोवेशन

सेना ने एकीकृत जनरेटर निगरानी, संरक्षण और नियंत्रण प्रणाली-विद्युत रक्षक को सोमवार को लांच किया। …