Wednesday , June 19 2024

मुनव्वर राणा की गिरफ्तारी पर रोक लगाने से लखनऊ HC का इंकार

लखनऊ। मशहूर शायर मुनव्वर राणा (Munawwar Rana) की गिरफ्तारी (arrest) पर रोक लगाने से हाईकोर्ट लखनऊ (High Court Lucknow) ने इंकार कर दिया है.

महर्षि वाल्मीकि की तुलना तालिबान से की थी

बात दें कि, मुनव्वर राणा पर महर्षि वाल्मीकि की तुलना तालिबान (Taliban) से करने का आरोप है. इस संबंध में लखनऊ (Lucknow) की हजरतगंज कोतवाली में मुनव्वर राणा पर एफआईआर दर्ज है.

फिर डराने लगा कोरोना, 24 घंटे में मिले 45,352 मरीज, केरल में सबसे ज्यादा मामले

हाईकोर्ट लखनऊ बेंच ने गिरफ्तारी पर रोक से इंकार किया

मुनव्वर राणा ने गिरफ्तारी पर रोक और एफआईआर रद्द करने के लिए हाईकोर्ट में अर्जी दी थी. लेकिन हाईकोर्ट लखनऊ बेंच ने गिरफ्तारी पर रोक से इंकार कर दिया है.

कई जगह मुनव्वर राणा के खिलाफ हुए प्रदर्शन

मुनव्वर राणा ने तालिबान की तुलना रामायण के रचयिता महर्षि वाल्मीकि से की, जिसके बाद उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. इस संबंध में कई जगह उनके खिलाफ विरोध प्रदर्शन भी हो रहे हैं.

मरीजों के लिए अच्छी खबर…अब लखनऊ के मेदांता हॉस्पिटल में भी होगा लिवर ट्रांसप्लांट

मुनव्वर राणा ने कहा था कि, वाल्मीकि रामायण लिखने के बाद भगवान बने, उससे पहले वह एक डाकू थे. व्यक्ति का चरित्र बदल सकता है. इसी तरह तालिबान अभी के लिए आतंकवादी हैं, लेकिन लोगों के चरित्र बदल जाते हैं.

मुश्किल में मुनव्वर राणा

अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा युवा और हिंदू महासभा ने लखनऊ के हजरतगंज थाने में मुकदमा दर्ज कराया था.

महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए कार्यशाला का आयोजन, आकांशा सिंह ने कहा- महिला सशक्तीकरण विकास का प्रभावी साधन

एससीएसटी के तहत मुकदमा दर्ज

एसीपी राघवेंद्र मिश्रा हजरतगंज के मुताबिक, मुनव्वर राणा के खिलाफ धार्मिक भावना भड़काने, सार्वजनिक शांति के विरुद्ध अपराध करने और एससीएसटी के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है.

Check Also

यूपी: उपचुनाव के लिए मजबूत प्रत्याशी तलाश रही बसपा

बसपा के लिए उपचुनाव में अपने प्रत्याशी उतारना मजबूरी बन चुका है, क्योंकि आजाद समाज …