Wednesday , April 17 2024

उत्तराखंड सरकार ने की जोशीमठ पीड़िताें को डेढ़ लाख रुपये की अंतरिम राहत देने की घोषणा..

उत्तराखंड सरकार ने बुधवार को जोशीमठ में प्रत्येक प्रभावित परिवार को डेढ़ लाख रुपये की अंतरिम राहत देने की घोषणा की है। पीड़ित परिवारों के शिफ्ट करने पर तुरंत ही उन्हें 50 हजार रुपये दिए जाएंगे। जोशीमठ में अब तक 723 घरों में दरारें आ गई हैं। प्रशासन द्वारा 131 परिवारों को सुरक्षित स्थानों पर स्थानांतरित कर दिया गया है। मुख्यमंत्री के सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम ने जोशीमठ में एक प्रेस वार्ता के दौरान यह बात कही। उन्होंने कहा कि भू-धंसाव से प्रभावित भवनों का सर्वे किया जा रहा है। दरारग्रस्त भवनों से लोगों को सुरक्षित स्थान में शिफ्ट किया जा रहा है। प्रभावित परिवारों को अंतरिम सहायता के रूप में 1.5 लाख रुपये देंगे, जिसमें 50 हजार रुपये हाउस शिफ्टिंग के लिए और 1 लाख रुपये आपदा राहत के लिए अग्रिम रूप से दिए जाएंगे। कहा कि जोशीमठ में जमीन धंसने से बुरी तरह प्रभावित दो होटलों को तोडऩे का आदेश दिया गया है. ये होटल आसपास की इमारतों के लिए भी खतरा पैदा कर रहे हैं। इसके अलावा फिलहाल किसी का भवन नहीं तोड़ा जा रहा है। सरकार प्रभावित लोगों को हर संभव सुविधा उपलब्ध करा रही है। जो लोग किराए के मकान में जाना चाहते हैं, उन्हें 6 माह तक ₹4000 प्रति माह दिया जाएगा। इससे पूर्व उन्होंने स्थानीय लोगों के साथ बैठक करते हुए स्पष्ट किया कि भू-धंसाव से प्रभावित लोगों को बाजार दर पर मुआवजा दिया जाएगा। अब तक 723 इमारतों की पहचान की गई है जिनमें दरारें आ गई हैं। सुरक्षा के मद्देनजर अब तक 131 परिवारों के 462 लोगों को अस्थाई राहत शिविरों में स्थानांतरित किया जा चुका है।

Check Also

उत्तराखंड: 35-40 साल की सेवा के बाद बिना पदोन्नति रिटायर हो रहे शिक्षक

शिक्षा विभाग में शिक्षक 35 से 40 साल की सेवा के बाद बिना पदोन्नति सेवानिवृत्त …