Saturday , April 20 2024

निलंबित IAS पूजा सिंघल को राहत, कोर्ट से मिली अंतरिम जमानत 

मनरेगा घोटाला और मनी लाउंड्रिंग की आरोपी पूजा सिंघल को बड़ी राहत मिली है। पूजा सिंघल को कोर्ट ने अंतरिम जमानत दी है। बता दें कि 25 मई से ही जेल में बंद पूजा सिंघल की कई जमानत याचिकाएं खारिज हो चुकी है। बता दें कि रांची के बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार में बंद पूजा सिंघल ने बेटी की बीमारी और उसकी देखभाल का हवाला देकर जमानत मांगी थी। गौरतलब है कि पूजा सिंघल को खूंटी जिले में उपायुक्त रहते मनरेगा में 18 करोड़ रुपये के घोटाले और मनी लाउंड्रिंग के आरोपों में ईडी ने 11 मई को गिरफ्तार किया था।
पूजा सिंघल को मिली सुप्रीम राहत गौरतलब है कि पूजा सिंघल को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत मिली है। पूजा सिंघल को मेडिकल ग्राउंड पर अंतरिम जमानत दी गई है। बताया जाता है कि बेटी की बीमारी के आधार पर अंतरिम जमानत दी है। गौरतलब है कि खूंटी जिले में हुए 18 करोड़ रुपये के मनरेगा घोटाला की जांच के सिलसिले में ईडी ने 6 मई को पूजा सिंघल के आवास और उसके करीबियों के कम से कम 25 ठिकानों पर छापा मारा था। ईडी ने पूजा सिंघल के पति अभिषेक झा के सीए सुमन कुमार के पास से 19 करोड़ रुपये से अधिक की रकम जब्त की थी। 25 मई को जेल भेजी गई थीं पूजा सिंघल इस मामले में पूजा सिंघल को 10 मई को पूछताछ के लिए बुलाया गया था। 11 मई को लंबी पूछताछ के बाद पूजा सिंघल को गिरफ्तार कर लिया गया था। 25 मई को पूजा सिंघल को बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार भेज दिया गया। बीच में पूजा सिंघल को रिम्स में भी भर्ती कराया गया था। 2 दिसंबर को ईडी ने बड़ी कार्रवाई करते हुए पूजा सिंघल की 82.77 करोड़ की चल-अचल संपत्ति जब्त कर ली थी। ईडी ने पूजा सिंघल से जुड़े पल्स हॉस्पिटल और पल्स डायग्नोस्टिक सेंटर सहित 2 भूखंड को जब्त कर लिया था।  

Check Also

सुप्रीम कोर्ट ने ओटीटी प्लेटफॉर्म पर लिया फैसला

सुप्रीम कोर्टे ने आज शुक्रवार को उन याचिकाकर्ताओं पर फैसला लिया, जिन्होंने ओटीटी प्लेटफॉर्म पर …