Monday , April 15 2024

हिमाचल प्रदेश में कोहरे और ओस ने बढ़ाई लोगों की परेशानी, पढ़े पूरी ख़बर

हिमाचल प्रदेश में बर्फबारी का दौर शुरू होने से पहले कड़ाके की ठंड पड़ रही है। पहाड़ी इलाकों से लेकर मैदानों तक सर्दी सितम ढा रही है। हमीरपुर, बिलासपुर, ऊना और कांगड़ा जिलों के मैदानी भागों में कोहरे और ओस ने भी लोगों की परेशानी में इजाफा कर दिया है। राज्य के कई हिस्सों में पारा शून्य से नीचे चला गया है। प्रचंड होती जा रही ठंड के बीच राजधानी शिमला में सीजन की सबसे सर्द रात रही और यहां का न्यूनतम तापमान 1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।
मौसम विज्ञान केन्द्र शिमला से जारी आज की रिपोर्ट देखें तो आधे हिमाचल का न्यूनतम तापमान माइनस में दर्ज किया गया है। राज्य के छह जिलों के 10 शहरों में सबसे अधिक ठंड का प्रभाव देखने को मिला है। लाहौल-स्पीति जिले का कुकुमसेरी -7.9 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान के साथ सबसे ठंडा स्थल रहा। इसी तरह लाहौल-स्पीति के जिला मुख्यालय केलांग में न्यूनतम तापमान -6.4 डिग्री, किन्नौर के कल्पा में -4.6 व-1.3 डिग्री, शिमला जिला के नारकंडा व कुफरी में क्रमशः -2.2 व -1.8 डिग्री, कुल्लू जिला के मनाली व सियोबाग में क्रमशः -1.5 व -0.3 डिग्री, मंडी जिला के सुंदरनगर में -0.3 डिग्री, बिलासपुर जिला के बरठीं में -0.2 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड हुआ है। इसके अलावा ऊना में न्यूनतम तापमान शून्य, भुंतर में 0.3, मंडी व सोलन में 0.6, हमीरपुर व डल्हौजी में 0.8, धर्मशाला में 5, पालमपुर में 2, कांगड़ा में 3.2, बिलासपुर व जुब्बड़हट्टी में 3.5, सराहन में 2 और चम्बा में 2.4 डिग्री रहा। ऊंचाई वाले इलाकों में शुरू होगी बर्फबारी मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के निदेशक सुरेंद्र पॉल ने बताया कि आगामी 24 घण्टों के दौरान पश्चिमी विक्षोभ का असर प्रदेश में देखने को मिलेगा। इसके प्रभाव से राज्य के अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी का दौर शुरू हो सकता है। हालांकि राज्य के मैदानी एवं मध्यवर्ती भागों में मौसम के साफ रहने का अनुमान है।

Check Also

लोकसभा चुनाव: पीएम मोदी आज जारी करेंगे भाजपा का चुनावी घोषणापत्र

आगामी लोकसभा चुनाव के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा …