Sunday , April 21 2024

सड़क हादसे में बाल-बाल बचे गृह मंत्री अनिल विज, पढ़े पूरी ख़बर

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने सोमवार को सड़क हादसे में बाल-बाल बच गए। उन्होंने खुद बताया कि केएमपी एक्सप्रेस-वे पर उनके सरकारी वाहन का ‘शॉक एब्जॉर्बर’ टूट गया और बड़ी दुर्घटना का शिकार होने से बचे। घटना उस समय हुई जब विज पार्टी की एक बैठक में शामिल होने के लिए अंबाला कैंट से गुरुग्राम जा रहे थे।
अनिल विज ने ट्वीट करके बताया, ‘अंबाला कैंट से गुरुग्राम जाने के दौरान चमत्कारिक रूप से बच गया, जब केएमपी रोड पर मेरे सरकारी वाहन मर्सिडीज बेंज इंड ई200 के शॉकर के 2 टुकड़े हो गए।’ भाजपा के सीनियर नेता विज ने कार और टूटे हुए हिस्से की तस्वीरें भी पोस्ट कीं। उन्होंने बताया कि जब कार कुंडली-मानेसर-पलवल (केएमपी) एक्सप्रेसवे पर चल रही थी, तो अचानक ‘शॉक एब्जॉर्बर’ टूट गया। घटना के समय धीमी गति से चल रही थी कार’ अंबाला कैंट से विधायक अनिल विज ने कहा कि सौभाग्य से घटना के समय कार धीमी गति से चल रही थी। उन्होंने कहा कि ड्राइवर की तरफ का शॉक एब्जॉर्बर टूट गया। इसके बाद चालक कार को वर्कशॉप ले गया। विज ने कहा कि घटना में कोई घायल नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि घटना के बाद वह पार्टी नेता घनश्याम सराफ की कार से यात्रा करके आगे गए। अगर राजनीतिक सरगर्मियों की बात करें तो अनिल विज ने सोमवार को छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल को राक्षस प्रवृत्ति बताया था। उन्होंने कहा कि हर युग में देवता भी रहे हैं और राक्षस भी… छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री आज के दौर के राक्षस प्रवृति के महानुभाव हैं, जिन्हें भगवा रंग में भी दोष नजर आता है। विज ने कहा कि जब दिन चढ़ता है तो भगवा होता है, रात्रि होती है तो भगवा होता है। हमारे तिरंगे में भगवे को सबसे ऊपर स्थान दिया गया है। दरअसल, सीएम बघेल ने हिंदू संगठनों पर कटाक्ष करते हुए कहा था कि रंग किसी की जाति और धर्म को तय नहीं कर सकते। भगवा रंग तो वही पहनता है जो घर, परिवार और समाज को छोड़ कर चला गया हो।  

Check Also

बंगाल सरकार ने चिड़ियाघर प्राधिकरण को सुझाए नाम

एक ही बाड़े में रखे शेर, शेरनी का नाम अकबर व सीता रखे जाने पर …