Sunday , April 21 2024

एक बार फिर ट्विटर पर ट्रोल हुए अखिलेश यादव, पढ़े पूरी ख़बर

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव अपने एक ट्वीट की वजह से अचानक ट्रोल होने लगे। उन्‍होंने सोमवार को वर्कशॉप में सर्विसिंग के लिए जा रही एक क्षतिग्रस्त बस की तस्वीर को यात्री बस बता कर ट्विटर पर पोस्ट कर दिया। फिर क्या था ट्विटर पर यूजर्स ने उनकी जमकर खिंचाई कर दी। वहीं यूपी रोडवेज के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से भी अखिलेश यादव को रिप्लाई करते हुए वास्तुस्थिति की जानकारी दी गई।
इधर परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह ने अखिलेश यादव के ट्वीट पर कड़ी अपत्ति दर्ज की है। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर अखिलेश लगातार फेक पोस्ट करते रहते हैं। कुछ माह पहले ही उन्होंने एक फोटो पोस्ट की थी, जिसमें बनारस में वरुणा नदी गंदगी और जलकुंभी से पटी हुई दिख रही थी, जबकि वो फोटो उन्हीं के कार्यकाल में खींची गई थी। वहीं आज उन्होंने रायबरेली डीपो की एक क्षतिग्रस्त बस की तस्वीर को यात्री बस बता कर पोस्ट किया गया है, जबकि हकीकत ये है कि यह बस क्षेत्रीय कार्यशाला लखनऊ में मरम्मत के लिए आ रही थी। इस दौरान बस में एक भी यात्री नहीं था। अखिलेश को ट्विटर की राजनीति करने से बाज आना चाहिए। इधर, अखिलेश यादव के ट्वीट को यूजर्स के गुस्से का भी सामना करना पड़ा है। लोगों ने उन्हें लगातार फेक सूचना देने के लिए आड़े हाथ लिया है। लोगों ने यहां तक लिखा कि जब अखिलेश यादव वास्तविक मुद्दों पर जीत हासिल ना कर सके तो अब उन्होंने फेक तस्वीरों के जरिए दुष्प्रचार शुरू कर दिया है।

Check Also

उत्तराखंड: नैनीताल सीट पर 15 साल में सबसे कम मतदान

नैनीताल सीट पर 61.75 प्रतिशत मतदान हुआ। वर्ष-2019 लोकसभा चुनाव से तुलना करें तो इस …