Sunday , June 16 2024

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भाजपा और आरएसएस पर साधा निशाना

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भाजपा और आरएसएस पर हमला बोला है। भाजपा की आलोचना करते हुए राहुल ने कहा कि वे ‘जय श्री राम’ का नारा देते हैं क्योंकि वे सीता की पूजा नहीं करते हैं। राहुल का यह बयान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कांग्रेस आलाकमान पर किए गए कटाक्ष के बाद आया है। जहां पीएम ने मल्लिकार्जुन खरगे के रावण वाले बयान की आलोचना की थी और कहा था कि कांग्रेस कभी भी राम में विश्वास नहीं करती।

जय सिया राम बोलने की नसीहत

मध्य प्रदेश के आगर मालवा में एक रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि ‘जय सिया राम’ या ‘जय सीता राम’ का अर्थ यह है कि राम और सीता एक ही हैं। लेकिन भाजपा और आरएसएस जय श्री राम का नारा देता है, क्योंकि वो सीता को नहीं मानते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा को अब अपना नारा बदलना चाहिए।

हम करते हैं महिलाओं का सम्मान

राहुल ने कहा कि सीता के बिना राम अधूरे हैं और जय सिया राम का नारा यह दिखाता है कि दोनों भगवान एक हैं। उन्होंने कहा कि भगवान राम सीता के लिए लड़े। हम जय सिया राम का नाम इसलिए जपते हैं क्योंकि हम महिलाओं को सीता का स्वरूप मान सम्मान करते हैं। सीता के बिना भगवान राम का नाम अधूरा है – वो एक ही हैं इसीलिए हम ‘जय सियाराम’ कहते हैं। भगवान राम सीता जी के लिए लड़े। हम जय सिया राम जपते हैं और महिलाओं को सीता का स्वरूप मान उनका आदर करते हैं। जय सिया राम 🙏

भाजपा ने कभी भगवान राम के तरीके को नहीं अपनाया

राहुल गांधी ने आरएसएस और भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि ये दोनों भगवान राम का नाम तो लेते हैं, लेकिन कभी राम के जीवन के तरीके को नहीं अपनाया है। भगवान राम ने कभी किसी के साथ अन्याय नहीं किया, उन्होंने समाज को एकजुट करने का काम किया। उन्होंने किसानों, व्यापारियों और मजदूरों की मदद की।  

Check Also

NEET पेपर लीक की सीबीआई जांच की अर्जी पर क्या बोला सुप्रीम कोर्ट?

न्यायमूर्ति विक्रम नाथ और न्यायमूर्ति संदीप मेहता की अवकाश पीठ हितेन सिंह कश्यप की तरफ …