Sunday , April 21 2024

केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव के इस बयान पर सीएम केजरीवाल का पलटवार, कहा…

दिल्ली में प्रदूषण को लेकर विरोधियों के निशाने पर आए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पलटवार किया है। केजरीवाल ने कहा है कि प्रदूषण पर राजनीति नहीं होनी चाहिए। प्रदूषण केवल दिल्ली और पंजाब में नहीं है, पूरा उत्तर भारत इससे परेशान है। दरअसल, पंजाब में पराली जलने के कारण दिल्ली में बढ़े प्रदूषण स्तर को भाजपा ने दिल्ली व पंजाब की सरकार पर निशाना साधा है। मुख्यमंत्री ने बुधवार को ट्वीट कर प्रदूषण को लेकर दिल्ली व पंजाब की आम आदमी पार्टी सरकार पर हमला बोलने पर कहा कि प्रदूषण जैसे मुद्दों पर राजनीति नहीं होनी चाहिए। यह दिल्ली और पंजाब में नहीं है। वहीं, दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने प्रदूषण के खिलाफ चल रही लड़ाई में उत्तर प्रदेश और हरियाणा सरकार से सहयोग मांगा है। हरियाणा, उत्तर प्रदेश और केंद्र सरकार के सहयोग से ही इस पर काबू पाया जा सकता है। केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव ने कहा, ‘साफ दिख रहा है कि कौन दिल्ली को गैस चैंबर बना रहा है। हरियाणा सरकार ने जहां पराली जलाने की घटनाओं में 30 फीसदी से ज्यादा की कमी की है, वहीं आप नेतृत्व वाले पंजाब में 19 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है।’ आयोग ने दिए सख्ती के निर्देश दिल्ली-एनसीआर मे लगातार बढ़ रहे प्रदूषण के चलते वायु गुणवत्ता आयोग ने सख्ती करने के निर्देश दिए हैं। ग्रैप को लागू किए जाने की दो दिवसीय समीक्षा बैठक की। इसमें मंगलवार को जहां दिल्ली के अधिकारियों की बैठक हुई, वहीं बुधवार को हरियाणा, उत्तर प्रदेश और राजस्थान के अधिकारियों से ग्रैप लागू किए जाने की जानकारी मांगी। बैठक में आयोग ने कहा कि ग्रैप के सभी चरणों का सख्ती से पालन करवाया जाए और उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। ग्रैप उप-समिति के सदस्य डॉ. वीके सोनी ने कहा कि आने वाले दिनों में एनसीआर की वायु गुणवत्ता में सकारात्मक प्रभाव और सुधार देखने को मिलेगा। प्रभावी और कड़े कदम उठाए गए हैं। अगले सप्ताह तक इसका असर देखने को मिल सकता है।

Check Also

उत्तराखंड: नैनीताल सीट पर 15 साल में सबसे कम मतदान

नैनीताल सीट पर 61.75 प्रतिशत मतदान हुआ। वर्ष-2019 लोकसभा चुनाव से तुलना करें तो इस …