Monday , April 15 2024

बिहार के इन ज़िलों भारी बारिश के असार, मौसम विभाग ने ज़ारी किया अलर्ट

बिहार में राजधानी पटना समेत प्रदेश के कई जिलों में मानसून की सक्रियता इन दिनों बनी हुई है और झमाझम बारिश से मौसम पहले से बेहतर हुआ है। बादलों के छाने और बारिश के प्रभाव से पटना समेत प्रदेश के अन्य जिलों के तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई है।
बुधवार को राजधानी का अधिकतम तापमान चार डिग्री नीचे आने के साथ 28.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं 0.7 डिग्री सेल्सियस की गिरावट के बाद 34.1 डिग्री पारे के साथ सीतामढ़ी में सर्वाधिक अधिकतम तापमान दर्ज किया गया। मौसम विज्ञान केंद्र पटना के अनुसार गुरुवार को प्रदेश के 28 जिलों में मेघ गर्जन व व्रजपात के साथ हल्की वर्षा का पूर्वानुमान है। वहीं प्रदेश के 12 जिलों के पूर्वी व पश्चिमी चंपारण, गोपालगंज, सीवान, शिवहर, सीतामढ़ी, मधुबनी, दरभंगा, सुपौल, अररिया, किशनगंज जिले के एक या दो स्थानों पर भारी वर्षा की चेतावनी है। मौसमविदों के अनुसार मानसून ट्रफ जैसलमेर, कोटा, मध्यप्रदेश होते हुए निम्न दबाव का क्षेत्र सिद्धि, अंबिकापुर, जमेशदपुर, दीघा होते हुए उत्तर पूर्व बंगाल की खाड़ी की ओर गुजर रही है। इन सभी मौसमी प्रभाव को देखते हुए प्रदेश में दो दिनों तक मेघ गर्जन, व्रजपात व वर्षा का पूर्वानुमान है। वहीं इस दौरान पूर्वी व दक्षिण पूर्वी हवा का प्रवाह 12-15 किमी प्रतिघंटा रहेगा। बुधवार को प्रदेश के नवादा जिले में 86.2 मिमी एवं पटना में 4.2 मिमी वर्षा दर्ज की गई। यहां हुई वर्षा  पटना में 4.2 मिमी, राजगीर में 72.8, बिहारशरीफ में 71.6, एकंगरसराय में 62.8, इस्लामपुर में 62.8, पचरुखी में 61.4, शेरघाटी में 50.4 मिमी, बिहटा में 47.5, नरहट में 46.3, दाउदनगर में 45.8, अरियारी में 43.4, बोधगया में 43, नौहट्टा में 41 मिमी वर्षा दर्ज की गई। प्रमुख शहरों का अधिकतम तापमान पटना 28.3 गया 31.0 मुजफ्फरपुर 29.8 भागलपुर 29.9 ( तापमान डिग्री सेल्सियस में)

Check Also

हल्द्वानी में चोरों ने खंगाला घर, शीशे पर लिखा- चोरी तो करी

चोरी तो करी, पर सोना नहीं मिला है। माफ करना चोरी के लिए। चोरों ने …