Tuesday , August 9 2022

तेलंगाना राष्ट्र समिति ने किया विपक्ष के उम्मीदवार के प्रति समर्थन का इजहार..

तेलंगाना राष्ट्र समिति (Telangana Rashtra Samithi, TRS) ने विपक्ष के उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के प्रति समर्थन का इजहार किया है। पार्टी नेता केशव राव (Keshav Rao) से शुक्रवार को बताया कि वो माग्रेट अल्वा (Margaret Alva) को उपराष्ट्रपति चुनाव में समर्थन दे रहे हैं।  TRS नेता राव ने कहा कि पार्टी अध्यक्ष के चंद्रशेखर राव (K Chandrasekhar Rao) ने फैसला लिया है कि संयुक्त विपक्षी उम्मीदवार अल्वा को समर्थन देंगे।  बता दें कि अल्वा ने TRS सांसदों से गुरुवार शाम को मुलाकात की थी।

राष्ट्रपति चुनाव में भी यशवंत सिन्हा के लिए ही पार्टी ने की थी वोटिंग

राष्ट्रपति चुनाव में भी TRS ने विपक्ष को समर्थन दिया था और यशवंत सिन्हा के लिए वोटिंग की थी। कांग्रेस नेता अल्वा को विपक्ष की ओर से उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के तौर पर उतारा गया है वहीं सत्तारूढ़  NDA के उम्मीदवार जगदीप धनखड़ (Jagdeep Dhankhar) हैं। उपराष्ट्रपति चुनाव शनिवार यानी 6 अगस्त को  होगा और इसके नतीजे भी कल ही आ जाएंगे। मौजूदा उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू का कार्यकाल 11 अगस्त को खत्म हो रहा है।

उपराष्ट्रपति चुनाव में अपनाई जाती है ये पद्धति

आनुपातिक प्रतिनिधि पद्धति के तहत उपराष्ट्रपति का चुनाव होता है। इसके लिए मतदान का खास तरीका अपनाया जाता है। इस व्यवस्था को सिंगल ट्रांसफरेबल वोट सिस्टम कहते हैं। उपराष्ट्रपति चुनाव में जितने सदस्यों के वोट डाले जाते हैं, उस संख्या को 2 से विभाजित करते हैं। इसके बाद मिले नतीजे में में एक जोड़ दिया जाता है। उल्लेखनीय है कि इस उपराष्ट्रपति चुनाव को जीतने के लिए 394 वोट मिलना जरूरी है।

भाजपा के पास हैं 300 से अधिक लोकसभा सांसद

 

मौजूदा समय में भाजपा के पास  303 लोकसभा सांसद हैं। वहीं राज्यसभा के पास  93 सांसद हैं। उपराष्ट्रपति चुनाव में कुल वोटों की संख्या पर नजर डालें तो भाजपा के पास आंकड़ा 395 का है,  जीत के लिए सिर्फ 394 सदस्यों की जरूरत है।

 

 

Check Also

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने राष्ट्रीय राजधानी में ‘हर घर तिरंगा यात्रा’ को दिखाई हरी झंडी..

Har Ghar Tiranga, Azadi Ka Amrit Mahotsav: लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने शनिवार को राष्ट्रीय राजधानी …