Thursday , May 23 2024

यूक्रेन-रूस जंग के बीच चीन मध्यस्थता को तैयार, तीसरे दौर की वार्ता से पहले बीजिंग ने दिया ये बड़ा बयान

नई दिल्ली। यूक्रेन में रूसी सेना के हमलों के बाद चीन ने बड़ा बयान दिया है. चीन ने कहा कि वह रूस और यूक्रेन के बीच शांति वार्ता को बढ़ावा देने में रचनात्मक भूमिका जारी रखेंगे.

पीएम मोदी ने की राष्ट्रपति जेलेंस्की से की फोन पर बात, भारतीयों को सही सलामत निकालने के लिए किया धन्यवाद

चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा कि, हम जरूरत पड़ने पर मध्यस्थता करने को तैयार है. वहीं विदेश मंत्री ने चीन-रूस संबंधों पर कहा कि चीन और रूस की दोस्ती चट्टान की तरह पक्की है.

यूक्रेन के लड़ाकू विमानों ने उनके क्षेत्र से हमले किये

बता दें कि चीन का ये बयान ऐसे समय पर आया है जब रूसी सेना ने यूक्रेन के पड़ोसी देशों को चेतावनी दी है कि यदि यूक्रेन के लड़ाकू विमानों ने उनके क्षेत्र से हमले किये, तो मास्को इसे उस देश का युद्ध में शामिल होना मानेगा.

लड़ाकू विमानों को पड़ोसी देशों में तैनात किया

रूसी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता इगोर कोनाशेनकोव ने रविवार को आरोप लगाया कि, यूक्रेन के कुछ लड़ाकू विमानों को रोमानिया और यूक्रेन के अन्य पड़ोसी देशों में तैनात किया गया है. हालांकि उन्होंने उन देशों का नाम नहीं बताया.

फिलिस्तीन में भारतीय राजदूत मुकुल आर्य की मौत, विदेश मंत्री जयशंकर ने जताया दुख

पीएम नरेंद्र मोदी ने की जेलेंस्की से बात

उन्होंने चेतावनी दी कि अगर वे लड़ाकू विमान रूसी सैनिकों पर उन राष्ट्रों के क्षेत्र से हमला करते हैं तो इसे यह माना जा सकता है कि वे देश सैन्य संघर्ष में शामिल हो गये हैं. इस बीच आज पहली बार पीएम नरेंद्र मोदी ने यूक्रेन में चल रहे हालातों को लेकर राष्ट्रपति जेलेंस्की से फोन पर बात की. दोनों के बीच फोन कॉल करीब 35 मिनट तक चली. इस दौरान पीएम ने जेलेंस्की से यूक्रेन में उभरती स्थिति पर चर्चा की.

Check Also

उत्तर से लेकर दक्षिण भारत तक लू का कहर

देश की राजधानी दिल्‍ली और एनसीआर समेत पंजाब और राजस्‍थान के कुछ हिस्‍सों में भीषण …