Wednesday , May 22 2024

हिंडनबर्ग के काले साये से उबर अदाणी ग्रुप के शेयरों ने LIC की भरी तिजोरी

सरकारी बीमा कंपनी LIC को अदाणी ग्रुप में अपने निवेश पर तगड़ा रिटर्न मिला है। LIC ने अदाणी ग्रुप की सात कंपनियों में कुल 38471 करोड़ रुपये का निवेश कर रखा है। पिछला वित्त वर्ष खत्म होने तक यानी 31 मार्च 2024 को यह निवेश बढ़कर 61210 करोड़ रुपये हो गया। इसका मतलब कि LIC को 22378 करोड़ रुपये के लाभ में है। आइए जानते हैं पूरी खबर।

देश की सबसे बड़ी और पुरानी बीमा कंपनी LIC को अदाणी ग्रुप में अपने निवेश पर तगड़ा रिटर्न मिला है। LIC ने पिछले वित्त वर्ष यानी 2023-24 में अदाणी ग्रुप में इन्वेस्टमेंट किया था। इस निवेश पर उसे 59 प्रतिशत की कमाई हुई है।

अदाणी ग्रुप में LIC का कितना निवेश?
शेयर बाजार के डेटा से पता चलता है कि सरकारी क्षेत्र की बीमा कंपनी LIC ने अदाणी ग्रुप की सात कंपनियों में कुल 38,471 करोड़ रुपये का निवेश कर रखा है। पिछला वित्त वर्ष खत्म होने तक यानी 31 मार्च, 2024 को यह निवेश बढ़कर 61,210 करोड़ रुपये हो गया। इसका मतलब कि LIC को 22,378 करोड़ रुपये के लाभ में है।

LIC को अदाणी ग्रुप की कंपनियों के शेयरों से यह लाभ उस स्थिति में हुआ है, जब उसने राजनीतिक दबाव पड़ने पर अपना निवेश घटा दिया था।

हिंडनबर्ग मामले से उबरा अदाणी ग्रुप
अमेरिकी शॉर्ट सेलर हिंडनबर्ग ने अपनी एक रिपोर्ट में दावा किया था कि अदाणी ग्रुप ने वित्तीय गड़बड़ियां की हैं। अदाणी ग्रुप ने हालांकि हिंडनबर्ग के सभी दावों को बेबुनियाद बताया, फिर भी उसकी सभी कंपनियों के शेयरों में बड़ी गिरावट देखी गई। इससे LIC के निवेश की वैल्यू भी घटी।

सरकारी कंपनी होने के नाते LIC पर भी दबाव बढ़ा और उसने अदाणी समूह की दो बड़ी कंपनियों- समूह की दो प्रमुख कंपनियों – अदाणी पोर्ट्स एंड SEZ और अदाणी एंटरप्राइजेज में अपना निवेश घटा दिया। इन दोनों शेयरों में क्रमश: 83 प्रतिशत और 68 प्रतिशत का उछाल आया है।

लेकिन, अदाणी ग्रुप ने हिंडनबर्ग की रिपोर्ट से लगे झटके से उबरते हुए शानदार वापसी की, जिससे LIC को भी तगड़ा मुनाफा हुआ है। अपना इन्वेस्टमेंट घटाने के बावजूद LIC को अडाणी समूह के शेयरों से 59 प्रतिशत का फायदा मिला है।

 

Check Also

रोजगार पैदा करने के लिए भारत को मैन्युफैक्चरिंग हब बनाने पर जोर

यह तो यूएई, आस्ट्रेलिया के साथ कारोबारी समझौता करने के साथ ही भारत ने यह …