Wednesday , April 17 2024

राजस्थान के इन ज़िलों में छाए रहेंगे बदल हो सकती है हल्की बूंदाबांदी…

राजस्थान में गुरुवार सुबह से ही दिन भर आसमान में बादल छाए रहे। सूर्य देव की लुकाछिपी होती रही। पूर्वी राजस्थान औऱ  श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़ के आसपास के क्षेत्रों में आंशिक बादल छाए रहेंगे। आज कुछ स्थानों पर हल्की बूंदाबांदी होने की संभावना है। विक्षोभ का असर समाप्त होने के बाद 31 दिसंबर से एक बार फिर तापमान में गिरावट होगी। शीतलहर और घना कोहरा रहेगा। राजस्थान में पश्चिची विक्षोभ के असर से अधिकांश जिलों में सर्दी से राहत मिली है। न्यूनतम-अधिकतम तापमान में 1-2 डिग्री की बढ़ोतरी हुई है। हालांकि, प्रदेश के शेखावाटी अंचल में सर्दी का सितम जारी है। फतेहपुर में तापमान शून्य से ऊपर नहीं बढ़ पाया है।  माउंट आबू में लगातार तीन दिन तक न्यूनतम तापमान माइनस में रहने के बाद बुधवार को एक एक डिग्री पर पहुंच गया।  वहीं फतेहपुर और जोबनेर में न्यूनतम तापमान शून्य डिग्री पर रहा। राजधानी जयपुर के तापमान में भी बढ़ोतरी हुई है। यहां अधिकतम तापमान  24. 7 डिग्री व न्यूनतम तापमान 8.4 डिग्री दर्ज किया गया।  मौसम विभाग केंद्र जयपुर के अनुसार सर्दी से अगले दो दिन तक राहत रहेगी।  न्यूनतम पारे में  और 2-4 डिग्री की बढ़ोतरी होगी।
शेखावाटी में सर्दी का सितम जारी  शेखावाटी अंचल में सर्दी का सितम जारी है। गुरुवार सुबह से ही दिन भर आसमान में बादल छाए रहे। सूर्य देव की लुकाछिपी होती रही। किसान वर्ग आसमान में छाए बादलों की ओर देखकर कयास लगाने लगे कि शायद आसमान से थोड़ी बहुत ही राहत की बूंदे गिर जाएं तो इस समय रबी की फसल को भारी तादाद में संबल मिल जाएगा। बता दें, शेखावाटी इलाके के चूरू, झुंझुनूं और सीकर में रात को कड़ाके के ठंड पड़ रही है। 31 दिसंबर सो फिर कड़ाके की ठंड मौसम विभाग केंद्र जयपुर के अनुसार अभी इसी तरह दो-तीन दिन मौसम रहेगा। ज्यादातर इलाकों में बादल छाने से धूप की लुकाछिपी शुरू हो गई है। जिसकी वजह से तापमान में उतार-चढ़ाव का दौर जारी रहेगा। राजस्थान में इस बार सर्दी का असर दिसंबर महीने के अंत में ज्यादा दिखाई दिया है। मौसम विभाग के अधिकारियों के कहना है कि नए वर्ष से कड़ाके की ठंड़ पड़ने के पूरे आसार है।  

Check Also

चुनाव आयोग ने दिए मुर्शिदाबाद के DIG को हटाने के निर्देश

चुनाव आयोग ने बताया कि एक मार्च से अबतक हर दिन 100 करोड़ रुपये जब्त …