Wednesday , June 19 2024

इस वजह से बिगड़ी एक ही परिवार के 6 लोगों की तबीयत, पढ़े वजह

स्ट्रीट फूड  भला किसे अच्छा नहीं लगता। हर कोई चाहता है कि रोड साइड खड़े होकर ठेले-खोमचे वाले के पास गोलगप्पा, चाट और समोसे खाएं। लोग अक्सर ऐसा करते भी देखे जा सकते हैं लेकिन चटखारे के चक्कर में कभी-कभी लेने के देने पड़ सकते हैं। फूड प्वॉइजनिंग हो सकती है। ऐसा ही हुआ है मांडर में। यहां गोलगप्पा खाने से एक ही परिवार के 6 लोग बीमार हो गए। थाना क्षेत्र स्थित गोरे करमटोली गांव में गुरुवार को फुचका खाने से एक ही परिवार के छह लोग बीमार हो गये। इसमें मां और पांच बच्चे शामिल हैं। घटना बुधवार दोपहर की है।
सभी लोगों का आईसीयू में चल रहा इलाज सभी को इलाज के लिए मांडर स्थित लिवेन्स अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इनमें से मां असगरी बेगम 35 वर्ष, आफरीन परवीन 13 वर्ष व अलिफा परवीन 8 वर्ष की हालत बेहद गंभीर है। इनका इलाज आईसीयू में चल रहा है। गांव में ही ठेले वाले से खाया था गोलगप्पा जानकारी के अनुसार, असगरी बेगम व उसके पांच बच्चों ने बुधवार दोपहर करीब दो बजे गांव में फुचका वाले से फुचका खाया। इसके बाद रात को अचानक उनकी तबियत खराब होने लगी और उन्हें उल्टियां और दस्त होने लगी। बाद में स्थानीय स्तर पर ही उनका इलाज किया गया, लेकिन गुरुवार को भी उनकी तबियत में सुधार नहीं हुआ। असके बाद उन्हें दोपहर में मिशन स्थित निजी अस्पताल में भर्ती किया गया। बताया जा रहा है कि फुचका खाने से असगरी बेगम व उसके पांच बच्चे ही नहीं, गांव के कई अन्य लोग भी बीमार हैं।  

Check Also

30 जून से शुरू होगा ‘मन की बात’ कार्यक्रम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोकसभा चुनाव के बाद पहली बार 30 जून को रेडियो पर मन …