Sunday , April 21 2024

रांची में 29 सितंबर तक रोजाना हल्की बारिश के असार, विभाग में जारी किया येलो अलर्ट 

राजधानी रांची में 29 सितंबर तक बादल छाए रहेंगे। मौसम विभाग के अनुसार सभी दिन एक से दो बार हल्के या मध्यम दर्जे की बारिश के आसार है। अगले चार दिनों तक रांची में अधिकतम 31 डिग्री और न्यूनतम 23 डिग्री तक तापमान बना रहेगा। वहीं पूरे राज्य में 25 और 26 सितंबर के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है। इस दौरान राज्य में हल्के व मध्यम दर्जे की बारिश के साथ गर्जन व वज्रपात की आशंका है। उधर, रांची में मौसम में आए अचानक बदलाव के बाद राजधानी और आसपास के जिलों में खूब बारिश हुई। दोपहर तीन बजे के बाद मात्र आधे घंटे के दौरान ही 15.0 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई। इसके चलते कई जगह जलजमाव हो गया। बिहार से पंजाब तक टर्फ बनने से हुई बारिश मौसम विभाग के अनुसार बिहार के दक्षिण-पूर्व से लेकर पंजाब तक एक टर्फ बनने से रांची समेत राज्य के कुछ हिस्सों में बारिश हुई। पिछले 24 घंटों के दौरान कोडरमा में सबसे ज्यादा 25.4 और हजारीबाग में 23.0 मिमी बारिश हुई। जबकि चाईबासा में 21.3 मिमी बारिश हुई। साहिबगंज, रांची, गोड्डा, लातेहार आदि में छिटपुट बारिश हुई। मौसम वैज्ञानिक अभिषेक आनंद ने कहा, राजधानी समेत राज्य के कई हिस्सों में आज भी बादल छाए रहेंगे। इस दौरान रांची में दिन के दौरान हल्की बारिश हो सकती है। राज्य के कुछ अन्य इलाकों में भी हल्की बारिश होने का पूर्वानुमान जारी किया गया है। इस दौरान राजधानी का तापमान 23 से 31 डिग्री के बीच रहने का अनुमान है। निचले इलाकों में पानी भरने से बढ़ी परेशानी अचानक मौसम में आए इस बदलाव के कारण हवा और गरज के साथ बारिश हुई। निचले इलाकों में सड़क के ऊपर से पानी बहने लगा। कामकाज के लिए घरों से बाहर निकले लोगों के साथ पूजा की तैयारी पर भी बारिश से असर पड़ा। राज्य में अगले 4 दिन हल्की बारिश के आसार हैं। तेज हवा के चलते दुर्गा पूजा पंडालों के निर्माण में दिक्कत रांची में पूजा पंडालों का निर्माण तेजी से हो रहा है। 26 सितंबर से नवरात्र शुरूहोने से से बड़े पंडाल अपने निर्माण की अंतिम चरण में है। लेकिन तेज हवा से काम में परेशानी हुई। खराब मौसम के कारण कई पंडाल का काम काफी देर तक रुका रहा। आसमान में रात के समय भी बादल छाए रहे। रांची में शाम में रिमझिम बारिश हुई।

Check Also

बंगाल सरकार ने चिड़ियाघर प्राधिकरण को सुझाए नाम

एक ही बाड़े में रखे शेर, शेरनी का नाम अकबर व सीता रखे जाने पर …