Thursday , April 18 2024

दिल्ली: यात्रियों ने इस वजह से किया एयरपोर्ट पर हंगामा

फ्रैंकफर्ट एवं म्युनिक जाने वाली लुफ्थांसा एयरलाइन की फ्लाइट रद्द होने के चलते गुरुवार देर रात एयरपोर्ट पर यात्रियों ने जमकर हंगामा किया। उन्होंने टी3 के गेट संख्या 6-7 के बाहर जाम लगाकर प्रदर्शन किया जिसके चलते अन्य यात्रियों को भी परेशानी होने लगी। इसकी जानकारी मिलने पर पुलिस एवं सीआईएसएफ की टीम ने यात्रियों को समझाकर वहां से हटाया। जानकारी के अनुसार गुरुवार रात लुफ्थांसा एयरलाइन की एक फ्लाइट 2.50 बजे 214 यात्रियों को लेकर फ्रैंकफर्ट जानी थी। वहीं दूसरी फ्लाइट देर रात 1.10 बजे 162 यात्रियों को लेकर म्युनिक जाने वाली थी। रात लगभग 10.15 बजे एयरपोर्ट पर यात्रियों को पता चला कि यह दोनों फ्लाइट रद्द हो गई हैं। इसके बारे में उन्हें पूर्व में कोई सूचना नहीं दी गई और ना ही किसी दूसरी फ्लाइट का बंदोबस्त किया गया। इसके चलते एयरपोर्ट पर मौजूद यात्रियों एवं उन्हें छोड़ने आये परिजनों लोगों ने जमकर हंगामा किया। उन्होंने गेट संख्या 6,7 का बाहर बैठकर वहां जाम लगा दिया और नारेबाजी करने लगे। सूत्रों ने बताया कि इस मामले में न तो विमान कंपनी ने यात्रियों के रुपये लौटाये और ना ही उनके ठहरने के लिए किसी होटल का बंदोबस्त किया। इसके चलते यात्रियों का गुस्सा फूट पड़ा और वह चेक-इन एरिया में भी हंगामा करने लगे। यात्रियों की जब कोई सुनवाई नहीं हुई तो उन्होंने देर रात पुलिस को कॉल किया। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और उन्होंने यात्रियों से बातचीत कर उन्हें समझाने का प्रयास किया। कुछ देर बाद वहां पर विमान कंपनी के स्टेशन मैनेजर पहुंचे लेकिन उन्होंने यात्रियों को कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया। इस प्रदर्शन के चलते एयरपोर्ट पर आने वाला ट्रैफिक बाधित होने लगा। इस वजह से सफर करने के लिए पहुंच रहे यात्रियों को भी परेशानी होने लगी। एयरपोर्ट डीसीपी तनु शर्मा ने बताया कि वहां जाकर पुलिस एवं सीआईएसएफ की टीम ने यात्रियों से बातचीत कर उन्हें शांत करवाया। उन्हें समझाकर पहले जाम खुलवाया गया और इसके बाद उनकी एयरलाइंस कंपनी से बात करवाई गई। एयरलाइंस कंपनी द्वारा उनके लिए वैकल्पिक व्यवस्था की जा रही है। दुनियाभर में एयरलाइंस की थी हड़ताल सूत्रों ने बताया कि लुफ्थांसा एयरलाइंस की 2 सितंबर को दुनियाभर में हड़ताल है। वेतन बढ़ाने की मांग को लेकर कर्मचारियों द्वारा यह हड़ताल रखी गई थी। लेकिन इसके बारे में यात्रियों के पहले से कोई सूचना नहीं दी गई थी। एयरपोर्ट से जाने वाली यह दोनों फ्लाइट रात 12.55 बजे और रात 11.30 बजे दिल्ली पहुंची थीं। लेकिन अगला दिन हड़ताल होने के चलते यह विमान वापस नहीं गए।  

Check Also

उत्तराखंड: 35-40 साल की सेवा के बाद बिना पदोन्नति रिटायर हो रहे शिक्षक

शिक्षा विभाग में शिक्षक 35 से 40 साल की सेवा के बाद बिना पदोन्नति सेवानिवृत्त …