Wednesday , May 22 2024

Prayagraj Murder Case: प्रयागराज में एक ही परिवार के 5 लोगों की निर्मम हत्या

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में अपराधियों को योगी सरकार और कानून का बिल्कुल भी खौफ नहीं है. संगम नगरी प्रयागराज में एक ही परिवार के पांच लोगों की हत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया है.

पांच लोगों की निर्मम हत्या

थरवई थाना क्षेत्र के खेवराजपुर गांव में 5 लोगों की ईंट पत्थर से कुचलकर निर्मम हत्या कर दी गई. खबर ये भी है कि हत्या के बाद घर में आग लगा दी गई. सामूहिक हत्या की इस सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंच चुकी है और जांच में जुट गई है.

गुरु तेग बहादुर साहिब जी को कोटि कोटि नमन, कार्यक्रम में शिरकत करेंगे सीएम योगी

इस निर्मम हत्या की जानकारी मिलते ही पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी, फॉरेंसिक टीम और डॉग स्कवाड की टीम भी मौके पर पहुंच चुकी है. बता दें कि प्रयागराज के गांगापार इलाके में लगातार सिसलिलेवार तरीके से पूरे परिवार की हत्याएं हो रही हैं. यह यूपी पुलिस के लिए एक बड़ी चुनौती बन चुकी है. हर चार से पांच महीने में इस इलाके में इसी तरह की वारदात होती है. रात के अंधेरे में पूरे परिवार को मौत के घाट उतार दिया जाता है.

इन लोगों की हुई हत्या

यहां परिवार के मुखिया 55 वर्षीय राजकुमार यादव सहित 50 वर्षीय पत्नी कुसुम, 25 वर्षीय बेटी मनीषा की भी हत्या कर दी गई. 30 वर्षीय बहू सविता और दो साल की मासूम पोती साक्षी की भी हत्या हुई है. प्रदीप कुमार यादव ने अपने भाई-भाभी और अन्य के मौत की सूचना पुलिस को दी थी.

J&K Terror Attack: बम धमाके के बा ताबड़तोड़ फायरिंग, सुंजवां में CISF जवानों की बस पर आतंकी हमले का वीडियो आया सामने

बहू और बेटी के साथ रेप की आशंका

पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा दिया है. मृतक महिलाओं के कपड़े अस्त व्यस्त मिले हैं. बहू और बेटी के साथ रेप की भी आशंका जताई जा रही है. पुलिस हत्या की वजह तलाश करने में जुटी है और ग्रामीणों और रिश्तेदारों से पूछताछ कर रही है.

बसपा सुप्रीमो मायावती ने की कार्रवाई की मांग

इस घटना पर उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा है कि, उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में एक ही परिवार के पांच लोगों की निर्मम हत्या किए जाने की खबर अति-दुःखद, निन्दनीय और चिन्ताजनक. सरकार घटना की तह में जाकर दोषियों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई सुनिश्चित करे.

31 करोड़ से अधिक कोविड डोज का सुरक्षा कवच प्रदान करने वाला देश का प्रथम राज्य बना यूपी

नहीं थम रही सिरियल किलिंग

इस तरह के ज्यादातर मामलों में पुलिस के हाथ खाली रहते हैं. यहां सीरियल किलिंग की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं. पिछले शनिवार को ही इसी गांगापार इलाके में इसी तरह की एक घटना हुई थी जहां एक ही परिवार के पांच लोगों को मौत के घाट उतार दिया गया था. इन दोनों घटनास्थल में सिर्फ 15 किलोमीटर की दूरी है.

पुलिस कुछ खास नहीं कर पाती

पिछले 10 साल में इस तरह की कम से कम 20 बड़ी घटनाएं हो चुकी हैं. ज्यादातर मामलों में पुलिस कुछ खास नहीं कर पाई है. एक हफ्ते के अंदर लगभग एक ही इलाके में पूरे परिवार को मौत के घाट उतारा जाना कानून-व्यवस्था के लिए बड़ी चुनौती है. ज्यादातर मामलों में पुलिस तह तक जाने की कोशिश नहीं करती है.

दिल्ली में मास्क नहीं पहनने पर 500 रुपये फाइन, प्राइवेट कार में नहीं कटेगा चालान

Check Also

यूपी: अखिलेश यादव बोले- छठे चरण में भाजपा की छंटाई कर देगी जनता

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने संतकबीरनगर में आयोजित रैली की तस्वीरें सोशल मीडिया पर जारी …