Thursday , May 23 2024

Karauli Violence: करौली हिंसा पर केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने दी प्रतिक्रिया, राजस्थान सरकार को लेकर कही ये बात

नई दिल्ली। नवसंवत्सर के उपलक्ष्य में बीते शनिवार को करौली के मुस्लिम बहुल क्षेत्र से निकाली गयी मोटरसाइकिल रैली पर असामाजिक तत्वों द्वारा पथराव के बाद पैदा हुए सांप्रदायिक तनाव पर केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने राज्य की राजस्थान सरकार पर निशाना साधा है.

श्रीलंका आर्थिक संकट: राष्ट्रपति राजपक्षे के खिलाफ उठ रही है आवाज, स्पीकर बोले- आएगी भुखमरी की नौबत

केंद्रीय मंत्री ने कहा है कि, राजस्थान में कांग्रेस सरकार की तुष्टीकरण की नीति का ये परिणाम है. उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति में भारतीय नववर्ष मनाने की परंपरा रही है. करौली में भी इसी तरह का एक कार्यक्रम हुआ और तुष्टीकरण की नीति के कारण इतनी बड़ी घटना हुई.

राजस्थान सरकार मुश्किल में

वहीं इसी मामले को लेकर केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा है कि, करौली दंगे के बाद जो FIR दर्ज़ हुई उसमें स्पष्ट है कि ये पहले से योजना बनाकर किया गया. अब जांच का विषय है कि इसमें सरकार, पुलिस और प्रशासन का कितना दबाव था कि ऐसी गतिविधियों को रोका नहीं गया. वहीं केंद्रीय मंत्रियों के इस हमले से राजस्थान सरकार को मुश्किल में डाल दिया है.

ACS होम अवनीश अवस्थी ने सी.बी.सी.आई.डी. मुख्यालय का किया निरीक्षण, कार्यो में हुई प्रगति की समीक्षा

घटना में 35 लोग हुए थे घायल

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि अगर भारतीय संस्कृति पर चोट करनी है तो कांग्रेस सरकार पर जबरदस्त चोट लगने वाली है, ऐसा मैं मानता हूं. गौरतलब है कि उपद्रव की इन घटनाओं में लगभग 35 लोग घायल हो गए थे. वहीं इस घटना पर राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि दोषियों को कड़ी सजा मिलनी चाहिए. सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने में जिनकी भूमिका है या जो रोकने में असफल रहे, उन्हें ज़िम्मेदार ठहराना चाहिए. भविष्य में ऐसा न हो इसके पुख़्ता इंतजाम भी करने चाहिए.

Check Also

सुप्रीम कोर्ट: क्या अब गिरफ्तारी की वैधता की जांच कर सकती है अदालत?

हेमंत सोरेन की तरफ से वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल और अरुणाभ चौधरी सुप्रीम कोर्ट में …