Saturday , June 22 2024

गाजियाबाद में कई जगहों पर बूंदाबांदी हुई शुरू, इससे तापमान में गिरावट दर्ज की गई

दिल्ली-एनसीआर में बीते तीन दिनों से मौसम का मिजाज पूरी तरह से बदला हुआ है। शनिवार से शुरू हुआ बारिश का दौर रुक-रुककर आज सोमवार को भी जारी है। इससे लोगों को गर्मी से राहत मिली है। ताजा जानकारी के मुताबिक, गाजियाबाद में कई जगहों पर बूंदाबांदी शुरू हो गई। इससे तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। जिले में एक दिन पहले बारिश के बाद रविवार को पूरे दिन बादल छाए रहे। पूरे दिन धूप न निकलने की वजह से तापमान में भी गिरावट बनी रही। वहीं, दिल्ली से सटे गुरुग्राम में रविवार को भी जोरदार बारिश हुई। इससे पहले मौसम विभाग ने सोमवार को बादल छाए रहने के साथ कुछ स्थानों पर बूंदाबांदी की संभावना जताई थी। इसके साथ न्यूनतम तापमान में गिरावट के साथ 16 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 23 डिग्री सेल्सियस रह सकता है।

नोएडा: दोपहर से शाम तक आसमान में मंडराते रहे बादल, पड़ी बौछारें

औद्योगिक नगरी में रविवार को भी मौसम का मिजाज बदला रहा। सुबह हल्की धूप निकलने के बाद दोपहर से शाम तक आसमान में बादल मंडराते रहे। कुछ क्षेत्रों में बौछारें भी पड़ीं। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आइएमडी) के मुताबिक सोमवार और मंगलवार को भी गरज चमक के साथ वर्षा की संभावना है।शनिवार तेज वर्षा और ओलावृष्टि से किसानों के चेहरे पर मायूसी छाई है। रविवार दिन में सुबह दस बजे से दोपहर डेढ़ बजे तक धूप जरूर निकली, लेकिन दोपहर दो बजे के बाद बादलों ने आसमान को पूरी तरह से ढंक लिया। आसमान में काले बादल छाने से किसान चिंतित होने लगे। लेकिन शाम होते-होते कई जगह सिर्फ हल्की वर्षा हुई। इससे अधिकतम तापमान सामान्य से चार डिग्री कम रहकर 27 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम 17 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम में नमी अधिकतम 94 व न्यूनतम 73 रही। हवा की रफ्तार 6.5 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार रही। करीब एक मिलीमीटर की वर्षा हुई। वर्षा के कारण तापमान में गर्मी से राहत मिली है। घरों एसी, कूलर बंद करना पड़ा है।वहीं स्काईमेट वेदर के मौसम विज्ञानी का कहना है कि पिछले दो से तीन दिनों से लगभग पूरे देश में प्री मानसून गतिविधियां चल रही हैं। एक ट्रफ पूर्वोत्तर राजस्थान से होते हुए उत्तर प्रदेश और दक्षिण बिहार होते हुए बंगाल तक जा रही है। दो दिनों के लिए देश के पूर्वी हिस्सों में बारिश में काफी वृद्धि होगी। दिल्ली-एनसीआर में सोमवार को भी वर्षा की संभावना है। वर्षा से नोएडा का वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआइ) 145 न ग्रेटर नोएडा का एक्यूआइ 132 के साथ मध्यम श्रेणी में दर्ज किया गया। वर्षा से प्रदूषण स्तर में गिरावट से जहां लोगों को राहत मिली है।

सड़क किनारे पानी रुकने परेशानी

शनिवार को हुई वर्षा के बाद कई जगह सड़क किनारे पानी रुकने से पैदल यात्रियों को परेशानी हुई। सलारपुर-भंगेल मार्ग, कुलेसरा मार्ग, लेबर चौक, पर्थला गोल चक्कर, मामूरा चौराहा, उद्योग मार्ग सहित अन्य कई प्रमुख मार्ग सड़क किनारे पानी रुकने से दूसरे दिन पैदल चलने वाले लोगों के साथ स्थानीय लोगों को परेशानी हुई। वहीं वर्षा के कारण कई जगह की सड़क की बजरी भी निकल गई। इससे कई जगह सड़कों पर गड्ढे हो गए। यहां से गुजरने वाले वाहन चालकों को परेशानी हुई। सेक्टर-121 से एफएनजी की सर्विस लेन पर पानी निकासी की व्यवस्था नहीं होने जलभराव हुआ। इस कारण वाहन चालकों को सर्विस लेन छोड़कर मुख्य सड़क का प्रयोग करना पड़ा।

Check Also

उत्तराखंड में अब हवाई सफर से पहले पता चलेगा मौसम का मिजाज

उत्तराखंड के मौसम में हुए बदलाव के चलते विभिन्न हेली कंपनियों के चार हेलीकॉप्टर ने …