Saturday , April 20 2024

सीतामढ़ी के डुमरा के लोगों में दिखा सीएम नीतीश कुमार के प्रति जबरदस्त गुस्सा, पढ़े पूरी ख़बर

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इन दिनों राज्य में एक नई यात्रा पर है इसका नाम उन्होंने दिया है समाधान यात्रा। आज सीएम वैशाली में सरकारी योजना और विकास कार्यों का निरीक्षण एवं समीक्षा करेंगे।  इससे पहले शुक्रवार को सीएम ने शिवहर-सीतामढ़ी में समाधान यात्रा के क्रम में विकास कार्यों को देखा और लोगों से फीडबैक लिया।  लेकिन, सीतामढ़ी के डुमरा में शुक्रवार की शाम लोगों में सीएम नीतीश कुमार के प्रति जबरदस्त गुस्सा दिखा।  डुमरा के बेरवास गांव के लोगों ने पंचायत भवन और सार्वजनिक स्थलों पर लगाए गए तमाम सरकारी पोस्टर, बैनर को फाड़ दिया।  गुस्साए लोगों ने सीएम के खिलाफ काफी नाराजगी दिखाई और नारेबाजी की।  इसकी वजह यह कि निर्धारित कार्यक्रम और तैयारी के बावजूद नीतीश कुमार गांव में नहीं पहुंचे।
सीएम समाधान यात्रा में निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार सीतामढ़ी के डुमरा प्रखंड के बेरवास में मुख्यमंत्री को पहुंचना था। गांव में इसकी पूरी तैयारी की गई थी।  पूरे इलाके में सरकार की उपलब्धियों के बड़े-बड़े बैनर, पोस्टर लगाए गए थे। पंचायत भवन को दुल्हन की तरह सजाया गया था। इतना ही नहीं पूरे इलाके में सोलर लाइट भी बड़ी संख्या में लगाई गई थी। सीएम से मिलने और अपनी बात कहने के लिए बड़ी संख्या में आसपास के कई गांवों के लोग जुटे हुए थे। लेकिन, वहां पहुंचने का सीएम का कार्यक्रम अचानक रद्द कर दिया गया। इसकी सूचना मिलते ही स्थानीय लोग गुस्से में आ गए और हंगामा करने लगे। लोगों ने पंचायत भवन और आसपास में लगाए गए पोस्टर को फाड़ दिया और आग के हवाले कर दिया।  लोगों ने मुख्यमंत्री के खिलाफ गुस्से का इजहार किया। डुमरा के राघोपुर बखरी गांव में भी मुख्यमंत्री को जाना था। वहां एक महादलित टोले में जाकर सीएम को जनता से फीडबैक लेना था।  लोग प्रतीक्षा कर रहे थे मगर सीएम नहीं पहुंचे।

Check Also

लखनऊ: शुक्रवार को गर्मी ने बनाया रिकॉर्ड, पारा 41 के पार

2024 में 19 अप्रैल सीजन का सबसे अधिक गर्म दिन रहा। लखनऊ का अधिकतम तापमान …